Header Ad

header ads

सिकंदरा : टाल सहरसा में साइकिल यात्रा ने किया पौधरोपण, बढ़ते पर्यावरण असंतुलन पर जताई चिंता

सिकंदरा/जमुई (Sikandara/Jamui) : मानसून के इस समय में अधिक से अधिक पौधा लगाने को लेकर साइकिल यात्रा एक विचार मंच के सदस्यों द्वारा निकाली गई 287 वीं रविवारीय यात्रा 12 सदस्यों के साथ सदर प्रखण्ड से 23 किलोमीटर दूर सिकन्दरा प्रखण्ड अंतर्गत टाल सहरसा ग्राम पहुँचकर जागरूकता अभियान चलाया गया जिसके अंतर्गत 50 पौधों का रोपण किया गया।
इस अवसर पर सदस्य विनय कुमार तांती द्वारा बताया गया कि किसानों का पर्यावरण से गहरा नाता रहा है। वे बढ़ते पर्यावरण असंतुलन पर चिंता ज़ाहिर करते हुए जहां जैविक खेती को अपना रहे हैं, वहीं कृषि वानिकी पर भी ख़ासा ध्यान दे रहे हैं। दरअसल कृषि वानिकी को अपनाकर कुछ हद तक पर्यावरण संतुलन को बेहतर बनाया जा सकता है। फ़सलों के साथ वृक्ष लगाने को कृषि वानिकी के नाम से जाना जाता है। खेतों की मेढ़ों पर वृक्ष लगाए जाते हैं। इसके अलावा गांव की परती भूमि और ऐसी भूमि, जिस पर कृषि नहीं की जा रही हैं, वहां भी उपयोगी वृक्ष लगाकर पर्यावरण को हरा-भरा बनाया जा रहा है। कृषि वानिकी के तहत ऐसे वृक्ष लगाने चाहिए, जो ईंधन के लिए लकड़ी और खाने के लिए फल दे सकें। जिनसे पशुओं के लिए चारा और खेती के औज़ारों के लिए अच्छी लकड़ी भी मिल सके। इस बात का भी ख़्याल रखना चाहिए कि वृक्ष ऐसे हों, जल्दी उगें और उनका झाड़ भी अच्छा बन सके।
इस अवसर पर सदस्य संदीप कुमार रंजन, विवेक कुमार, आकाश कुमार, रंधीर कुमार, विनय कुमार तांती, अजीत कुमार, शेखर कुमार, बंटी कुमार, शरद कुमार, सिंटू कुमार, संतोष कुमार सुमन तथा पंकज कुमार के साथ साथ ग्रामीण नकुल प्रसाद चौरसिया, आनंदी प्रसाद चौरसिया, अनिल प्रसाद, अंकुश कुमार, अनीश कुमार, मनीष कुमार, दिलखुश कुमार, नीतीश कुमार आदि लोग उपस्थित थे।