Breaking News

गिद्धौर : प्राइवेट स्कूल में करा रहें हैं अपने बच्चे का नामांकन, तो जान लें ये बातें

[न्यूज डेस्क | अभिषेक कुमार झा]:-
हमारी सार्वजनिक शिक्षा व्यवस्था लगातार आलोचनाओं के घेरे में रही है। चाहें वो शिक्षा सरकारी विद्यालयों की हो अथवा निजी विद्यालयों की आलोचनाओं के बादल से गिरे कडवाहट की बूंदे इन दोनों पर बरसती है। सरकारी विद्यालयों के कार्यशैली से लगभग सभी वाकिफ हैं ही। आज निजी विद्यालय की ओर रूख करते हैं, जहाँ नए सत्र की दहलीज पर नामांकन दस्तक दे रहा है। 

यदि आप अपने बच्चे का नामांकन निजी विद्यालय में कराने की अभिलाषा रखते हैं तो इन तीन बिन्दुओं से आप जरूर अवगत हों :-
◀1▶  जिला शिक्षा कार्यालय के द्वारा जिले में पंजीकृत जितने भी प्राइवेट स्कूल हैं, अथवा जिन विद्यालयों को कार्यालय के द्वारा U-DISE कोड प्राप्त है, उन्ही विद्यालयों में आप अपने बच्चों का नामांकन कराएँ ।

◀2▶ पंजीकृत अथवा यू-डायस प्राप्त विद्यालयों की सूची सहित विवरण आपके प्रखंड शिक्षा कार्यालय में उपलब्ध है, आप इसे आवेदन देकर उसे वहाँ से प्राप्त भी कर सकते हैं।

◀3▶ शिक्षा के अधिकार के तहत आर्थिक रूप से कमजोर जिन बच्चों का नामांकन कक्षा-1 में होना है, उन्हें इसका लाभ केवल पंजीकृत विद्यालयों में ही मिलेगा।

अब यदि विशेषत: हम गिद्धौर की बात करें तो, यहाँ मुख्यतः चार प्राइवेट स्कूल ऐसे हैं जहाँ आप अपने बच्चों का नामांकन निश्चिन्त होकर करा सकते हैं। इन चार निजी विद्यालयों में दो विद्यालय हैं जिनका निबंधन हो चूका है और शेष दो विद्यालयों को U-DISE का कोड प्राप्त है।

» यू-डायस प्राप्त विद्यालय «
◆ स्वामी विवेकानन्द एकैडमी, गिद्धौर (जमुई)
◆महात्मा गांधी पब्लिक स्कूल, गिद्धौर (जमुई)

» जिला शिक्षा कार्यालय से निबंधित विद्यालय «
◆ गिद्धौर सेन्ट्रल स्कूल, गिद्धौर (जमुई)
◆ विनोबा भावे पब्लिक स्कूल, गिद्धौर (जमुई)



गिद्धौर से जुड़े पाठकों को बताते चलें, गिद्धौर प्रखंड क्षेत्र में कई प्राइवेट स्कूल पांव पसार रहे हैं, ऐसे में गुणवत्ता पर भी बड़ा प्रश्न चिन्ह लगता है।  ऐसे में आप निबंधित अथवा यू-डायस कोड प्राप्त विद्यालयों में आप बच्चे का भविष्य सौंप कर उसे उज्ज्वल करने में अपना योगदान दे सकते हैं।
विदित हो अनुशासन प्रेम एवं वात्सल्य शिक्षा ही विद्यार्थियों को अच्छा नागरिक बनाती है।