Skip to main content

Posts

हमारे पाठक

* सफलता का एक आसान फार्मूला है, आप अपना सर्वोत्तम दीजिये और हो सकता है लोग उसे पसंद कर लें। -सैम ईविंग * नौसिखिये बैठे रहते हैं और इंश्पिरेशन का इंतज़ार करते हैं, बाकी हम सब बस उठते हैं और काम पर चल देते हैं। -स्टीफन किंग * सफलता बहुत हद तक तब भी टिके रहना है जबकि बाकी लोग मैदान छोड़ कर चले गए हों। * जहाँ हो वहां से शुरुआत करो। उसका प्रयोग करो जो तुम्हारे पास है। वो करो जो तुम कर सकते हो। -आर्थर ऐश * हमारी सबसे बड़ी कमजोरी हार मान लेना है। सफल होने का सबसे निश्चित तरीका है हमेशा एक और बार प्रयास करना। -थॉमस ए. एडीसन

आप इस पोर्टल पर अपना न्यूज़ लगवाने के लिए हमारे व्हाट्सएप नंबर - 9504036827 पर हमें भेज सकते हैं

* जहां तुम हो वही से शुरू करो, जो कुछ भी तुम्हारे पास है उसका उपयोग करो और वह करो जो तुम कर सकते हो. * जब तक किसी काम को किया नहीं जाता तब तक वह असंभव लगता है. -नेल्सन मंडेला * तुम उन्नति नहीं करते जब सब कुछ ठीक होता है, परेशानियां तुम्हे मज़बूत बनाती हैं. * सफल वो होते हैं जो अपने ऊपर फेंके गए पत्थर से भी ईमारत बना लेते हैं.

बड़ी खबर

गिद्धौर : बसंत के साथ मां शारदे का हुआ आगमन, धूमधाम से की गयी पूजा-अर्चना

Recent posts

मिलिए अनूठे मुस्लिम शारदा भक्त गुरु रहमान से

Gidhaur.com (पटना) : वर्ष 1994 से प्रख्यात इतिहासकार एवं जीवन विशेषज्ञ गुरू डॉ. एम. रहमान द्वारा प्रत्येक वर्ष माता सरस्वती की पुजा का आयोजन किया जाता है। जो आज भी निरंतर जारी है। पटना के नया टोला गोपाल मार्केट मे 11 रूपये की गुरूदक्षिणा मे सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कराने वाले गुरु रहमान वेद और कुरान के ज्ञाता हैं।सफलता के पर्याय बन चुके हैं गुरु रहमान
धार्मिक कट्टरता की बात करने वालो के मुंह पर जोरदार तमाचा है राजधानी पटना के नयाटोला गोपाल मार्केट में चलने वाला वेद और कुरान के ज्ञाता डॉ. एम. रहमान का अदम्या अदिति गुरुकुल, जहाँ हिन्दू-मुस्लिम छात्र एक साथ पूजा पाठ करते हैं। यह सिलसिला विगत कई वर्षो से चलता आ रहा है। महज 11 रुपये की गुरुदक्षिणा में गरीब छात्रो को सिविल सेवा तक की प्रतियोगिता परीक्षाओ की तैयारी करने वाले इस अनूठे गुरुकुल के व्यवस्थापक मुन्ना जी कहते है की भूख गरीबी बदहाली की जिस तरह कोई जाति या धर्म नही होता ठीक उसी तरह सफलता का भी कोई धर्म नही होता मातृभूमि सबसे बढ़कर है।मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं : गुरु रहमान
गुरु रहमान कहते है की ऐसा करने से मानसिक शक्तिया जागृत ह…

सोनो : मां सरस्वती के चरणों में नतमस्तक हुए विद्यार्थी, धूमधाम से हुई पूजा

Gidhaur.com(सोनो):- विद्या दायिनी माता सरस्वती की पूजा सोनो प्रखंड क्षेत्र में सोमवार को हर्षपूर्वक मनाया गया। सोनो बाजार, बटिया बाजार, महेश्वरी, चरका पत्थर, शारेबाद तथा अगाहरा बाजार के अलावा विभिन्न चौक चौराहों सहित सरकारी तथा गैर सरकारी विद्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थानों पर भव्य रूप से सुसज्जित पंडालों में विद्वान पंडितों के द्वारा मंत्रोच्चारण एवं विधिपूर्वक हवन पूजन के साथ माता सरस्वती की प्रतिमा स्थापित की गई। इन स्थानों पर छात्र व छात्राओं ने नहा धोकर माता सरस्वती की पूजा अर्चना की और नमन करते हुए अधिक से अधिक विधा प्राप्त करने का विनती किया।
  डुमरी गांव निवासी विद्वान पंडित जटाशंकर पांडेय ने बताया कि सरस्वती पूजा हिन्दुओं का प्रसिद्ध त्योहार है, यह पूजा प्रति वर्ष माघ मास शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि को मनाई जाती है। माता सरस्वती को विद्या की देवी मानी जाती है जिस कारण इनकी पूजा बड़े ही उल्लास व सम्मान के साथ किया जाता है। इन्हें हंस वाहिनी और विद्या दायिनी भी कहा जाता है। लिहाजा इनकी पूजा में  छात्र व छात्राओं में काफी जोश का संचार देखा गया। उन्होंने बताया कि हिन्दु रिति रिवाज के अनु…

सरस्वती पूजा आज, यहाँ जानें पूजा का शुभ मुहूर्त

Gidhaur.com (धर्म) : साहित्य, संगीत और कला की अधिष्ठात्री माँ सरस्वती की पूजा सोमवार, 22 जनवरी यानि आज बसंत पंचमी को की जायेगी। गिद्धौर में कई जगहों पर मूर्तिकारों द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमाएं बनाई गई हैं। मूर्तिकारों ने प्रतिमाओं को अंतिम रूप दे दिया है तो दूसरी ओर पूजा को लेकर तैयारियां हफ्ते भर से जारी है। विद्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थानों में भी पूजा को लेकर उत्साह है।  सार्वजनिक पुस्तकालय, विभिन्न विद्यालयों एवं स्थानीय कई छोटे-बड़े पूजा समितियों द्वारा माँ सरस्वती की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना की जायेगी। सभी संस्थानों के छात्रगण एवं समितियों के सदस्य भव्य सरस्वती पूजा के आयोजन की तैयारी में लगे हैं। पूजा समितियों द्वारा पूजा पंडाल को आकर्षक रूप से सजाया जा गया है। जिसमें रंग-बिरंगे बल्ब, झालर व लड़ियों का प्रयोग किया गया है। सभी मूर्तिकार माता की प्रतिमा को अंतिम रूप देकर रंग-रोगन के साथ वस्त्र-अलंकार से सजा चुके हैं। मूर्तिकारों ने मनमोहक एवं आकर्षक प्रतिमाएँ बनाई है। प्रतिमाओं की ऊंचाई करीब दस फीट तक भी है। इसके अलावा एक फीट की भी प्रतिमाएं बनी हैं। यहां प्रतिमा में मिट्ट…

गिद्धौर : हाथ से मिलाकर हाथ, गिद्धौर वासियों ने बनाया मानव श्रृंखला

[Gidhaur.com | न्यूज़ डेस्क] दिन था रविवार, जब गिद्धौर में दहेज प्रथा एवं बाल विवाह उन्मूलन अभियान हेतु ग्रामीण स्तर पर लोगों को समाज के इस कुप्रथा से निजात दिलाने की पहल को लेकर सरकार द्वारा चलाये जा रहे थे|
चलाये गए उन्मूलन अभियान के तहत मुख्यालय के गिद्धौर बाजार में जदयू कार्यालय के निकट प्रदेश उपाध्यक्ष दामोदर रावत,जिला महासचिव जयनंदन सिंह, युवा प्रदेश महासचिव राजीव रावत,शैलेन्द्र कुमार, देवेन्द्र रावत सहित महिला जदयू की अगुआई में मानव श्रृंखला का निर्माण किया गया|
गिद्धौर प्रखंड की प्रारंभिक सीमा संसारपुर ग्राम में ग्रामीण महिलाओं जीविका दीदीयों, एवं स्कूली छात्र छात्राओं की भारी भीड़ के साथ मानव सृंखला का निर्माण कर समाज में दहेज प्रथा एवं बाल विवाह  उन्मूलन को लेकर आम जनमानस को संदेश दिया गया। गिद्धौर प्रखंड सीमाक्षेत्र के संसारपुर ग्राम से बरहट प्रखंड सीमा क्षेत्र के नयागांव दिग्विजय सिंह समाधि स्थल तक मुख्य राजमार्ग पर लगभग  12 किलोमीटर की दूरी तक मानव श्रृंखला से संबंधित सेक्टर पदाधिकारी व प्रसासनिक पदाधिकारी की देख रेख में बनाई गई।

वहीं पतसंडा पंचायत के मुखिया संगीता सिं…