Breaking News

पटना : भोजपुरी भक्ति एल्बम ‘बेड़ा पार हो जाई’ का किया गया लोकार्पण

Gidhaur.com (पटना) : भोजपुरी साहित्य या संगीत की चर्चा होते ही, मन में कलुषता स्वाभाविक हो उठती है. जिस रूप में या जिस भाषा मे आज भोजपुरी को परोसा जा रहा है, निश्चित ही किसी भी रुप मे स्वीकार्य तो नहीं ही है. मन की गरिमा को ठेस पहुंचती है. इससे बचना जरूरी है. आई.आई.बी.एम. पटना के शास्त्री सभागार में सांस्कृतिका म्यूजिक और धिनक-धिन-धा के संयुक्त तत्वावधान में भोजपुरी भक्ति एल्बम ‘बेड़ा पार हो जाई’ का लोकार्पण किया गया. इस अवसर पर कला के संस्कार पक्ष पर संक्षिप्त परिचर्चा हुई. परिचर्चा में उत्तम सिंह, निदेशक, आई.आई.बी.एम. पटना, कुमार अरुणोदय, सचिव हमें भी पढ़ाओ, सुभाष कुमार ईश्वर, समाजसेवी, बबलू सोनी, फिल्म निर्देशक, विशाल ज्योति, शिक्षक एवं संगीत प्रेमी, शालिनी वैश्कियार, समाजसेवी ने भाग लिया. कार्यक्रम के दौरान हुई चर्चा में भोजपुरी भाषा के गीत संगीत एवं कला के संस्कार पक्ष पर चर्चा हुई.

अपनी चर्चा के दौरान वक्ताओं ने एल्बम के गीतों की प्रशंसा की. एल्बम के गायक गुड्डू कुमार गुंजन, निर्माता निमेष शुक्ल, गीतकार धनंजय पांडेय, संगीतकार मनोज बिहारी हैं. संयोजक परमेश्वर सिंह को भी कला के संस्कार पक्ष के लिए साधुवाद दिया. वक्ताओं ने कहा, आज भी कुछ जीवट व्यक्तित्व है, जो अपनी कठिन तपस्या और श्रम से भोजपुरी के उत्थान के लिए प्रयत्नशील हैं.

संस्कृतिका प्रोडक्शन हाउस के निमेष शुक्ला का यह प्रयास कि, भोजपुरी की मधुरता को पुनः परोसा जाए, एक नए रूप और नए अन्दाज़ में, निश्चित ही सुखदता की अनुभूति दे गया. भोजपुरी गायक गुड्डू गुंजन जी का यह पहला प्रयास है, माँ विंध्यवासिनी के भजनों के संकलन “बेड़ा पार हो जाई”  के रूप में..! गुंजन जी की आवाज़ बड़ी गहरी और संवेदित है. 
संस्थान के निदेशक प्रो. डॉ. उत्तम कुमार सिंह की उपस्थिति सुखद रही। निमेष जी का मंच संचालन अद्भुत और संगीत भाव मे डुबोने वाला था। गुंजन जी द्वारा कुछ चुनिंदा भजनों का गायन उपस्थित लोगों का मन भिंगो गया.

(अनूप नारायण)
पटना     |     10/09/2017, रविवार
www.gidhaur.com