Breaking News

रिसोर्सेज की कमी है लेकिन रिफॉर्म्स जारी है : CM

[gidhaur.com | पटना] :- मंगलवार को  सर्कुलर रोड स्थित बिहार विकास मिशन के सभाकक्ष में  NTPC और बिहार सरकार के बीच एम.ओ.यू का हस्तांतरण मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार एवं भारत सरकार के ऊर्जा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री आर के सिंह के समक्ष किया गया। डायरेक्टर कमर्शियल NTPC श्री एन. के. गुप्ता एवं एम. डी. एस बी पी डी सी एल एवं बी एस पी डी सी एल आर लक्ष्मण ने आपस में एमओयू का हस्तांतरण किया। वहीं मौके पर  बरौनी वाष्प शक्ति प्रतिष्ठान कांटी बिजली उत्पादन निगम लिमिटेड एवं नवीन नगर पावर जनरेटिंग कंपनी का स्वामित्व का हस्तांतरण NTPC को किया गया। ज्ञात हो कि NTPC कोयला आधारित आप शक्ति प्रतिष्ठानों का निर्गुण संचालन करती है NTPC को कम ब्याज दर पर बाजार से ऋण उपलब्ध होता है। सीमित संसाधनों के कारण इकाइयों से अनवरत उत्पादन पर संकट तथा संसाधनों की प्रतिपूर्ति हेतु राज्य सरकार पर अतिरिक्त वित्तीय बोझ कम होगा।  इस एमओयू के बाद राज्य को प्रतिवर्ष 875.6 करोड रुपए की बचत संभावित है।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि राज्य की पूरी संपत्ति राष्ट्र की संपत्ति होती है।  इसका बेहतर उपयोग होने से पूरे देश को फायदा होगा प्रबंधन व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए राज्य सरकार ने पहले ही बिजली बोर्ड को पांच भागों में विभाजित कर कंपनी के रूप में निर्मित किया।  बिजली बोर्ड में काम करने वाले किसी भी कर्मचारी की सेवा शर्त में कोई परिवर्तन नहीं किया गया।  उन्होंने कहा कि बिजली के दर्द को ठीक करने के लिए सरकार द्वारा बिजली नियामक आयोग के समक्ष सब्सिडी का प्रस्ताव रखा गया और जब हुआ तब राज्य सरकार द्वारा अपने खजाने से उपभोक्ताओं को सब्सिडी दी जा रही है।  बिजली बिल में वास्तविक और राज्य सरकार द्वारा दी गई सब्सिडी उस पर अंकित रहेगा जिससे लोगों को पता चलेगा कि सरकार उपभोक्ताओं को कितनी सहायता राशि दे रही है।  लोग इसे नैतिक जिम्मेदारी समझकर बिना वजह की बिजली की खपत नहीं करेंगे।  हम लोग सब्सिडी उपभोक्ताओं को और वितरित कंपनियों को देते हैं।  वितरित कंपनियों के घाटे को कम करने के लिए सब्सिडी दी जाती है।  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि नवीन नगर प्लांट को शुरू करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है मैंने व्यक्तिगत तौर पर हल्की और जमीन अधिग्रहण संबंधित समस्या का समाधान किया गया और किसानों को उचित मूल्य दिया गया । 

इस अवसर पर भारत सरकार के बिजली एवं नवीन नवीन कर्मियों ऊर्जा राज्यमंत्री श्री आर के सिंह ने अपने संबोधन में यह कहा कि यह मुख्यमंत्री के दूरदर्शी शासन को दर्शाता है यह विशंभरा मुख्यमंत्री का निर्णय है इससे राज्य को काफी फायदा होगा ऊर्जा मंत्री बिहार सरकार श्री विजेंद्र प्रसाद यादव ने भी अपने विचार रखे इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री अंजनी कुमार सिंह प्रधान सचिव ऊर्जा श्री प्रत्यय अमृत मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री चंचल कुमार सीएमडी NTPC श्री गुरदीप सिंह मुख्यमंत्री के सचिव श्री आशीष चंद्र मुख्यमंत्री के सचिव श्री मनीष कुमार वर्मा डायरेक्टर कमर्शियल श्री ए के गुप्ता रीजनल एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर श्री सुरेंद्र नाथ एस बी पी डी सी के प्रबंध निदेशक श्री आर एन बी पी डी  ई एल  के प्रबंध निदेशक श्री संदीप के विशेष सचिव मुख्यमंत्री सचिवालय श्री अनुपम कुमार मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी श्री गोपाल सिंह श्री विद्युत उत्पादन उत्पादक निगम लिमिटेड श्री PK  सिन्हा जी NTPC  श्री प्रशांत कश्यपसहित ऊर्जा विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे।
(न्यूज डेस्क)
15-5-2018 (मंगलवार)
www.gidhaur.com