Breaking News

जमुई : अपनी मांगों को लेकर नप के सफाई कर्मियों ने किया प्रदर्शन, जताया विरोध


gidhaur.com | न्यूज़ नेटवर्क 】 :-

नगर परिषद में कार्यरत सफाई कर्मियों ने नगर परिषद कार्यालय के समीप सफाई व्यवस्था को एनजीओ को देने की सूचना पर इन लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया।
कर्मियों का कहना था कि हम लोग तीन वर्षों से सफाई का कार्य करते आ रहे हैं। कुछ दिनों से सूचना मिल रही है कि पदाधिकारियों द्वारा सफाई कर्मियों को एनजीओ के तहत काम करने का  विज्ञापन  निकाला है। इनलोगों का कहना था कि ये लोग जुग्गी झपडी में रहकर 3 साल से गंदगी की साफ सफाई करते आ रहे हैं। ठेकेदारी होने पर हमलोगों को काम पर से हटा दिया जाएगा। इसीलिए  हम लोगों ने  ठेकेदारी नहीं करने की मांग कर रहे हैं।  हमलोग को सरकारी कर्मी का दर्जा मिलना चाहिए। कर्मियों का कहना था कि अगर ठेकेदारी प्रथा हुआ तो हम लोग धरना प्रदर्शन और अनसन पर जाने को बाध्य हो जाएंगे।
जानकारी के अनुसार, नगर परिषद में साफ सफाई के कार्य कर रहे  कर्मियों की कुल संख्या 210  है। एनजीओ से काम शुरू करवाने के बाद यदि इन कर्मियों को एक साथ निकाल दिया जाता है तो इन कर्मियों के सामने काफी सारी परेशानियां खड़ी हो जाएगी। प्रदर्शन में शामिल पिंकू कुमार का कहना था कि पूर्व में एनजीओ के अंदर हमलोगों ने काम किया था। एनजीओ तीन माह का वेतन लेकर फरार हो गया। आजतक वह पैसा हमलोगों को नही मिला है। जब इसकी सूचना विभाग के बड़ा बाबू को दी गयी तो उन्होंने बताया कि उनका वेतन विधिवत एनजीओ को सौंप दिया गया है। एनजीओ ने  आज तक उस पैसे को नहीं दिया।
ऐसे में  किस आधार पर  हम  फिर से ठेकेदार और एनजीओ पर भरोसा काम करें, ये चिंतनीय है।
इस दौरान प्रदर्शन करने वालों में पिंकू कुमार, राजू कुमार, प्रकाश कुमार, बंगाली कुमार, विक्की कुमार, राम कुमार ,दीपक कुमार, अशोक कुमार, अजय कुमार, नंदनी देवी, नैना देवी, पूजा देवी, राजा कुमार, बेबी देवी, पूनम देवी, पप्पू कुमार, नीलम देवी, अनिता देवी, मीना देवी, रीता देवी, रोहित कुमार, विनोद कुमार, सूरज दास, चंदन कुमार समेत दर्जनों सफाई कर्मी मौजूद थे।