Breaking News

सोनो : शिक्षिका से रिश्वत लेने में धड़ा गए बीईओ साहब, निगरानी टीम ने किया गिरफ्तार

न्यूज डेस्क |अभिषेक कुमार झा] :-

शिक्षा विभाग के एक अधिकारी के लिए गुरूवार पनौती भरी रही। पनौती इसलि क्योंकि नजरना वसूलने में अपने कायदे को भूल चूके ये अधिकारी निगरानी विभाग के हत्थे चढ गये हैं।
मामला जमुई जिले अंतर्गत सोनो प्रखंड का है, जहाँ के बीईओ को उन्हीं के आवास स्थान पर ₹10, 000/- के साथ गिरफ्तार किया। 

बताया जाता है कि, सोनो प्रखंड क्षेत्र के एक उर्दू विद्यालय में शिक्षिका के रूप में कार्यरत सगुफ्ता अपने बकाया वेतन को चालू कराने के लिए प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी रामाशंकर साह को आवेदन दिया था।  कई महीनों टाल मटोल करने के बाद उससे10 हजार रिश्वत की मांग की जाने लगी। 

आर्थिक तंगी से जूझ रही टेट पास उक्त शिक्षिका निगरानी टीम से इसके शिकायतोपरान्त  कार्रवाई के दौरान निगरानी की टीम ने घूस की रकम लेते हुए बीईओ साहब को गिरफ्तार कर लिया। 

विदित हो, इसके पूर्व भी तीन प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को निगरानी की टीम ने रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था।  सोनो बीईओ को घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार करने के साथ ही जमुई जिले में बीईओ का मानो आकाल सा पड गया हो। क्योकि अब सिर्फ दो प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के भरोसे ही जिले के दस प्रखंडों की शैक्षणिक गाड़ी चलेगी। इनमें से एक बीईओ साहब इसी माह में रिटायर होने वाले हैं। फिर केवल एक ही प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के हाथ दस प्रखंडों की कमान होगी।

खैर जो भी हो, लेकिन इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि शिक्षकों से घुस लेने वाले वाले पदाधिकारियों को जेल भेजवाने के लिए संकल्पित बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह का प्रयास अब रंग दिखाने लग गया है।