Breaking News

सिमुलतला : क्षेत्र में 6 स्थानों पर हुई मां दुर्गा की पूजा, हर्षोल्लास के साथ प्रतिमा विसर्जित

[ सिमुलतला  |  गणेश कुमार सिंह]

सिमुलतला थाना क्षेत्र के  टेलवा बाजार अवस्थित ऐतिहासिक दुर्गा मंदिर की नींव लगभग 2 शताब्दी पहले रखी गयी थी। पौराणिक मान्यता,एवं विश्वास को लेकर क्षेत्र के तमाम ग्रामों का यह दुर्गा मंदिर  आस्था का केंद्र है।  


यहां जमुई जिले के अलावे बांका एवं झारखंड राज्य के श्रद्धालु पूजा अर्चना को पहुंचते है। यहां के बुजुर्ग बताते है कि इस मंदिर की पहचान मनोकामना सिद्धि से है। यहां जो भी भक्त श्रद्धा से अपनी मनोकामना माता की चरणों ने रखते है, मां उस भक्त की पुकार अवश्य सुनती है। खासकर यह मां पुत्रदायनी का वरदान  देकर हजारो घरों में चिराग दे चुकी है। यहां भारी संख्या में छात्र छात्राएं भी आकर मन्नते मांगते है। 


मान्यता यह है कि मां के दरबार में सच्ची सेवा और भक्ति करने पर मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। भक्त खाली हाथ तो आते है, पर झोली भरकर जाते हैं। मान्यता यह भी है कि इस  मंदिर का निर्माण टेलवा के भूतपूर्व राजा रंजीत नारायण सिंह के पत्नी रानी तारा कुमारी गिद्धौर के राजा से केश जितने के उपरांत करवाई थी।  ‎रानी के द्वारा मंदिर स्थापित करने के कारण उसके बंसज   यदुनंदन सिंह, श्याम सिंह, प्रकाश नारायण सिंह, पंचम सिंह, नीरज सिंह, राजकुमार सिंह एवं क्षेत्र के भक्तो के सहयोग से  माता का पूजा अर्चना एवं बलि प्रथा को निभाते आ रहे है। यहां लगभग पांच से छः सौ बकरे की बलि भी दी जाती है। 


वहीं सिमुलतला में दुर्गा पूजा व दशहरा का दस दिवसीय पूजनोत्सव प्रतिमा विसर्जन के साथ शुक्रवार को संपन्न हो गया। इस दौरान भव्य शोभा यात्रा व माता रानी के जयकारे के साथ प्रतिमा को तालाबों में आसूं पूर्ण नेत्रों तथा वैदिक मंत्रों के बीच विसर्जित किया गया। इससे पूर्व गांव की गलियों से लेकर  पंडालों तक आस्था की भीड़ उमड़ी रही। भक्तों ने पूरी आस्था व निष्ठा के साथ नवरात्र का व्रत किया।सिमुलतला रेलवे स्टेशन परिसर में स्थित दुर्गा मंदिर की प्रतिमा, ऐतिहासिक दुर्गा मंदिर टेलवा बाजार की प्रतिमा, लहाबन रेलवे स्टेशन की प्रतिमा एवं कल्याणपुर गांव स्थित प्रतिमा का विसर्जन शुक्रवार की रात्रि जबकि चरैया गांव स्थित मटीहानी एवं पत्थलचपटी की प्रतिमा शनिवार को प्रतिमा का विसर्जन किया गया।दशहरा को लेकर बच्चों की खूब मस्ती रही। सरकारी से लेकर सभी निजी विद्यालयों में लंबी छुट्टी रही। जिसका बच्चों ने खूब लुत्फ उठाया। मेला और दुर्गा मंडपों में उनका उत्साह देखते बना।


इस दौरान मां दुर्गा की प्रतिमा को विभिन्न सिमुलतला रेलवे तालाब, टेलवा बाजार के तालाब एवं लहाबन, कल्याणपुर के प्रतिमा का  में विसर्जन नदियों में  किया गया। इस दौरान स्थानीय प्रशासन चुस्त दुरुस्त दिखी। थानाध्यक्ष वीरभद्र सिंह ने बताया की कुल छः स्थानों पर मां दुर्गा का प्रतिमा स्थापित किया गया था जिसमें चार का विसर्जन किया गया एवं पत्थलचपटी एवं मटीहानी का प्रतिमा आज शनिवार को किया जाएगा।