Breaking News

मुंगेर : बोरवेल की गहराई में फंसी 3 साल की सना, एक्शन में आई SDRF की टीम

[न्यूज डेस्क | शुभम् कुमार]
मंगलवार तक 'पापा-पापा' की आवाज से गूंजता बोरवेल आज खामोशियों में सिमटा हुआ है।
घटना है मुंगेर जिला अंतर्गत कोतवाली थाना क्षेत्र के मुर्गियाचक मुहल्ले की, जहां मंगलवार को खेलने के दौरान सना बोरवेल में गिर गिर गई।
जरा सोचिए, उस 3 वर्षीय मासूम 'सना' का दर्द जो तकरीबन 100 फीट गहरे बोरवेल में मंगलवार से गिरी हुई है और उस बोरवेल में जिंदगी के लिए संघर्ष कर रही है। 
हलांकि,  SDRF की टीम ने जिला प्रशासन के सहयोग से सारे ऑपरेशन को अपने हाथों में ले लिया है। रेस्क्यू के लिए मौके पर L आकार में गड्ढा खोदा जा रहा है। वहीं, बोरवेल में गिरी बच्ची सना की मां का रो-रोकर बुरा हाल है।

दुआओं का जारी है दौर
बच्ची की सकुशल बरामदगी के लिए दुआओं में हजारों हाथ उठने लगे हैं। घटना पर मौजूद कुछ लोगों का कहना है कि राजधानी समेत राज्य के अलग-अलग इलाकों से सना के सलामती के लिए पूजा-पाठ और हवन किया जा रहा है। मौका-ए- घटना से प्राप्त जानकारी अनुसार, एसडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू के लिये 42 फीट का गड्ढा खोद लिया है। सना 45 फीट की गहराई में जा कर फंसी है। सना तक पहुंचने के लिए प्रशासन बोरवेल के समानांतर चैनल बना रहा है। 2 जेसीबी और 2 पोकलेन की सहायता से खुदाई अंतिम चरण में है।

राज्य सरकार तक भी पहुँचा मामला
विदित हो उक्त घटना को राज्य सरकार ने भी गंभीरता से लिया है। पटना से लगातार अधिकारियों से बचाव कार्य की बाबत जानकारी ली जा रही है। बचाव कार्य में किसी प्रकार का व्यवधान नहीं हो, इसके लिए भारी संख्या में पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है।

कौन है सना ?
बोरवेल में जिन्दगी के लिए संघर्ष कर रही सना का जन्म तीन साल की एक छोटी सी बच्ची है।
10 फरवरी 2015 को जन्मी सना मुंगेर स्थित नोट्रेडेम एकेडमी के मान्टेसरी की छात्रा है।  दो दिन पूर्व सना अपने पिता नचिकेता के साथ नाना उमेश नंदन साह के घर आई थी।

विदित हो केंद्र सरकार ने मार्च 2009 में ऐसी घटनाओं की रोकथाम के के प्रावधान बनाने के लिए एक कमेटी गठित की थी, फिर भी तमाम नियमों को ताख पर रखना प्रबंधन के लापरवाह रवैये की गवाही दे रहा है।
खैर जो भी हो, फिलहाल बोरवेल में डूबी बच्ची सना को बोरवेल से सुरक्षित बाहर निकालने के लिए प्रशासन और स्थानीय लोगों ने पूरी ताकत झोंक दी है। उम्‍मीद जताई जा रही है कि सना को सुरक्षित बाहर निकाल लिया जाएगा।