Breaking News

गिद्धौर : अरहर की खेती से उपेक्षित है किसानों की उम्मीदें

[gidhaur.com | गिद्धौर/बंझुलिया] :- अपने बेहतर उपज की आश लगाए  अन्नदाता के माथे पर चिन्ता की लकीरें दिखने लगी है। भला दिखेगी भी क्यूं नहीं, प्रखण्ड भर के किसानों को इस वर्ष अरहर की खेती  कुछ दिनों से उन्हें  काफी रुलाते हुए नजर आ रहे हैं। 
अरहर के उपज को लेकर बंझुलिया के कुछ कृषक अपना दुखड़ा सुनाते हुए बताते हैं कि, हर वर्ष के मुकाबले इस वर्ष अरहर के पौधे बहुत ही सुंदर उगे थे, उसमें फूल भी काफी मात्रा में आया हुआ था,खेतों का नजारा देखने पर  ऐसा प्रतीत हो रहा था कि इस वर्ष अरहर की रिकॉर्ड तोड़ उपज होगी जिससे किसानों को महंगी दाल की समस्या से काफी हद तक निजात मिलेगी। लेकिन होली के पूर्व आई बारिश और पछुआ हवा ने पूरे प्रखण्ड भर के किसानों के मंसूबे पर पानी फेर दिया।लिहाजा, फूल सहित अरहर का पौधा सुख गया और उससे बीज नहीं निकल पाया और देखते ही देखते अरहर के उपज की सम्भावना काफी कम हो गई। 
गिद्धौर प्रखण्ड अंतर्गत बंझुलिया के कुछ किसानों ने सरकार से इस क्षति पूर्ति का आकलन कर मदद की मांग की है ताकि उनकी मेहनत मुस्कुराहट का रूप ले सके।
Edited By- Abhishek Kumar Jha
बंझुलिया | 30/3/2018, शुक्रवार