Breaking News

गिद्धौर : ABVP की अनोखी पहल, कुछ इस तरह मनाया विश्व पर्यावरण दिवस

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :-
पर्यावरण के साथ-साथ की पंछियों की देखभाल करना जरूरी है,क्योंकि बढ़ती गर्मी के कारण नदी, तलाब, पोखर सुख गया है, जिससे जिव-जन्तु एवं पशु-पंछी को पानी तक नसीब नहीं हो पा रही हैं। उक्त बातें अभाविप जिला संयोजक निहाल वर्मा ने कहा।


मौका था विश्व पर्यावरण दिवस का जब अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद गिद्धौर इकाई के स्टूडेंट डेवलपमेंट (एसएफडी) आयाम के द्वारा 'पानी पिलाओ-पंछी बचाओ' अभियान के तहत बेतहाशी गर्मी में चिड़ियों की प्यास बुझाने के लिए मिट्टी के बर्तन में पानी भरकर पेड़ों पर परिषद के कार्यकर्ताओं ने लटकाया एवं वृक्षारोपण किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से मौजूद अभाविप के जिला संयोजक निहाल वर्मा ने बताया कि इस गर्मी में काफी पक्षियों की मृत्यु हो चुकी है, इसलिए पंछियों के लिए पानी की व्यवस्था करना बेहद जरूरी है। इसके लिए विद्यार्थी परिषद के एस.एफ.डी. आयाम द्वारा "पानी पिलाओ-पंछी बचाओं" अभियान एस.एफ.डी. प्रमुख आशुतोष वैभव उर्फ मोनू की अध्यक्षता में चलाया जा रहा है।


बुधवार को हुए इस अभियान को गति देते हुए गिद्धौर सेंट्रल स्कूल के बगीचे एवं गिद्धौर स्टेशन रोड के दर्जनों पेड़ एवं अन्य बगीचे में मिट्टी की बर्तन में पानी भरकर पेड़ों पर लटकाया गया। जिला संयोजक ने बताया कि पूरे जमुई जिले में इस अभियान के तहत पंछी के लिए पानी की व्यवस्था की जाएगी।
इस दौरान अभाविप कार्यकर्ताओं ने अपील किया कि सभी लोग अपने-अपने घरों के छत के खुले में पानी जरुर रखें, जिससे पक्षियों की प्यास बुझ सके। मौके पर उपस्थित नगर मंत्री विकास यादव ने कहा कि विद्यार्थी परिषद् छात्रहित के साथ-साथ समाज हित में भी अपना अहम भूमिका निभाती रही हैं। पेड़ों में लटकाए गए सैकड़ों बर्तनों में प्रतिदिन पानी डालने की भी जिम्मेदारी कार्यकर्ताओं को दे दी गई है।

अभाविप के इस अभियान को सफल बनाने में रिशु कु. रावत, शुभम सिंह, रूपेश यादव, राज रंजन, विशाल कुमार, विक्रम रावत, सोनू, अक्षय, सचिन समेत दर्जनों कार्यकर्ताओं ने अपना योगदान दिया। वहीं कार्यक्रम में शामिल हुए गिद्धौर सेंट्रल स्कूल के निदेशक अमर सिंह ने अभाविप के इस पहल को सराहा।