Breaking News

बिहार के कुसहा त्रासदी पर बनी मैथिली फिल्म को दिल्ली सरकार करेगी टैक्स फ्री

ट्रेलर देखने से पता चलता है कि इसकी कहानी परिवार के इर्द गिर्द घूमती है...


पटना/मनोरंजन (अनूप नारायण) :
आमतौर पर मैथिली भाषा में फिल्मों का निर्माण नाम मात्र का भी नहीं होता.राम जानकी फिल्म्स के बैनर तले निर्माता रजनीकांत पाठक और विष्णु कांत पाठक ने बिहार के कुसहा त्रासदी को मैथिली रुपहले पर्दे पर उतारने का साहस किया है मैथिली फिल्म लव यू दुल्हिन का आज नई दिल्ली में भव्य ट्रेलर लोकार्पण समारोह आयोजित किया गया था. मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर मैथिली फ़िल्म लव यू दुल्हिन का ट्रेलर रिलीज़ किया गया।इस अवसर पर दिल्ली आस पास के बहुत सारे मैथिली भाषी लोगो ने शिरकत किया।

लव यू दुल्हिन एक पारिवारिक मनोरंजक फ़िल्म है।ट्रेलर देखने से पता चलता है कि इसकी कहानी परिवार के इर्द गिर्द घूमती है।इस अवसर पर मैथिली भोजपुरी अकादमी,दिल्ली सरकार के उपाध्यक्ष नीरज पाठक के कर कमलों द्वारा ट्रेलर रिलीज किया गया।दिल्ली के द्वारा मोड़ स्थिति सभागार में खचाखच भरे दर्शको के बीच नीरज पाठक ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री से कह कर सभी क्षेत्रीय भाषा के फिल्मों को दिल्ली में प्रदर्शन होने पर टैक्स फ्री किया जाएगा और जिसकी शुरुआत मैथिली फ़िल्म लव यू दुल्हिन से होगी।उन्होंने ने निर्माता श्री विष्णु पाठक से कहा कि बहुत जल्द इस फ़िल्म को दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी को दिखाया जाएगा।
ट्रेलर में कोशी के कुसहा बांध टूटने, भागते लोग, पानी का कहर, दाम्पत्य प्यार, गौ प्रेम और विलन के खतरनाक अंदाज को दिखाया गया है. ट्रेलर रिलीज होने के कुछ ही देर बाद इसे काफी संख्या में लोग ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप आदि के जरिए शेयर कर रहे हैं। इस बात की जानकारी मौके पर मौजूद निर्माता विष्णुकांत पाठक-रजनीकांत पाठक ने दी।

2008 के कुसहा त्रासदी पर बनी फ़िल्म ‘लव यू दुल्हन’ का ट्रेलर जारी होने के बाद से ही इसे जल्द रिलीज करने की डिमांड होने लगी है. लेकिन जानकारी मिल रही है कि पहले यह फिल्म फरवरी के प्रथम सप्ताह में दिल्ली एवं उसके आसपास के इलाके में मैथिल भाषी लोगों के लिए प्रदर्शित की जाएगी। फिर इसे होली से 20 दिन पहले यानी एक मार्च को बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, उड़ीसा, बंगाल, नेपाल आदि के कई शहरों में प्रदर्शित की जाएगी।
ट्रेलर रिलीज कार्यक्रम में फ़िल्म के निर्देशक मनोज श्रीपति,निर्माता बिष्णु पाठक,रजनीकांत पाठक के साथ साथ फ़िल्म के कलाकार विकास झा,शुभनारायरण झा,स्वेता आज़ाद,गायक देवानंद,गीतकार सुधीर कुमार सहित अखिल भारतीय मिथिला संघ के अध्यक्ष विजय चंद झा,फ़िल्म निर्माता,राम नाथ झा,संतोष झा,भवेश नंद झा,मिथिला स्टूडेंड यूनियन के अध्यक्ष रौशन मैथिल,पूर्व अध्यक्ष कमलेश,मैसाम के अध्यक्ष अमर नाथ,बीजेपी पूर्वांचल के शरद,दिल्ली कांग्रेस के तपन झा,आम आदमी के अरुण पंजियार,पार्षद प्रवीण झा,मैथिली गायक प्रज्ञा झा,जान्हवी झा,रानी झा,जुली झा,राधे भाय,लोक गायिका मधुलता,कविता और मैथिल सिनेमा के प्रशिद्ध अभिनेत्री कल्पना मिश्र आदि गणमान्य लोग  मौजूद थे।