Breaking News

पूर्वी गुगुलडीह : परिवार विकास संस्था द्वारा बच्चों को उपलब्ध करायी गई पाठ्य सामग्री


[पूर्वी गुगुलडीह | रुदल पंडित] Edited by - शुभम् कुमार
केन्द्र सरकार द्वारा जारी की गई चाइल्ड हेल्पलाइन नम्बर 1098 आर्थिक रूप से पिछडे़ और अनाथ बच्चों के लिए बहुत ही मददगार साबित हो रही है. पाठकों को बता दें कि अगर 18 साल से कम उम्र का कोई बच्चा आर्थिक रूप से पिछड़ा हो, अनाथ हो, बाल मजदूरी करता हो, गुमशुदा मिले, किसी बच्चे का शोषण किया जा रहा हो तो आप 1098 पर कॉल कर उसकी मदद कर सकते है. गिद्धौर तथा आसपास के क्षेत्रों मे चाइल्ड हेल्प लाइन नम्बर के द्वारा परिवार विकास संस्था, चन्द्रशेखर नगर ऐसे बच्चों तक पहुँच कर मदद पहुँचाने का कार्य कर रही है.
गिद्धौर प्रखण्ड अन्तर्गत पूर्वी गुगुलडीह पंचायत के केवाल गाँव के गौतम कुमार पिता चंद्रिका यादव और इसकी माता के साथ इसकी बहन कि मृत्यु पिछले साल केवाल के आहार में कपड़े खींचने के दौरान डूबने से हुई. तब से इसकी परिवार की स्थिति दयनीय हो गई है. गौतम के साथ इसका छोटा भाई नीरज कुमार है जो की 4 वर्ग में पढ़ाई कर रहा है. पारिवारिक स्थिति खराब होने के कारण गौतम कि पढ़ाई बीच में कुछ दिनों के लिए रुक गई. कुछ दिन पहले समाजिक संस्था परिवार विकास चंद्रशेखर नगर के द्वारा केवाल में एक बैठक कर 1098 child line  में बारे में जानकरी दी गई, तब गौतम ने 1098 पर फोन कर अपना समस्या बताई. जिसके बाद इनके घर जानकरी लेने आए श्री मुकुन कुमार और जीव लाल यादव के द्वारा इन्हें किताब सहयोग करने का आश्वासन दिया गया.
उसी तरह एक और बच्ची है जो की एक गरीब परिवार से आती है. इनका नाम सिंकु कुमारी है जो दशम वर्ग के छात्रा है और अगले साल मैट्रिक कि परीक्षा में बैठेगी, इनके पास दशम वर्ग के कोई भी किताब नहीं था. सिंकु के  पिता का नाम बैधनाथ यादव है जो कि मानसिक रूप से मंद बुद्धि है. यह भी किताब के समस्या से परेशान होकर एक दिन 1098पर फोन की.
1098 पर फोन करने के बाद सोमवार को परिवार विकास संस्था के मुकुन कुमार और गोपी कुमार के द्वारा इन दोनों बच्चों को दशम वर्ग का मॉडल सेट उपलब्ध कराया गया. किताब मिलने के बाद बच्चों और अभिभावकों में काफी खुशी देखी गई.