Breaking News

सिमुलतला : कलश यात्रा के दौरान भक्तिधारा में डूबा टेलवा बाजार

[Gidhaur.com | सिमुलतला] :- मंगलवार को श्री रामचरितमानस ज्ञान महायज्ञ का शुभारंभ एक हजार कुमारी लड़कियों के द्वारा भव्य कलश यात्रा निकली गई। कलश यात्रा बडुआ नदी के गोबरदाहा पुल से प्रारम्भ करके सियांटांड़, टेलवा बाजार होते हुए यज्ञ स्थल टेलवा बाजार स्थित दुर्गा मंदिर परिसर में जाकर समाप्त हुआ। कलश यात्रा के दौरान भक्तों द्वारा ईश्वर के जयकारा से पूरा क्षेत्र भक्ति रस धारा में डूब गया। इस यज्ञ की तैयारियाँ बीते पन्द्रह दिनों से चल रहा था। यज्ञ को भव्य स्वरूप देने वाले लखनऊ से आये राष्ट्रीय संत सत्य नारायण दास नागा बाबा जी महाराज कर रहें हैं। महिला-पुरुष ईश्वर के जयकार में खुद को डूबा लिया। कलश यात्रा को पूरा टेलवा पंचायत के ग्रामीण अपनी और से स्वागत करने के लिए आतुर थे।
जिस मार्ग से कलश यात्रा निकला लोग धार्मिक रीति-रिवाज से उसका स्वागत किया। इस यज्ञ को लेकर पूरा टेलवा बाजार केशरिया एवं पीताम्बरी झंडों से भरा पड़ा रहा। पूरे बाजार में भीड़ के कारण तिलभर भी  सामने की जगह नहीं थी। कलश यात्रा के बाद प्रवचन, हवन एवं अन्य धार्मिक अनुष्ठान अगले आठ दिनों तक निरंतर चलेंगे। यज्ञ के संदर्भ में बाबाजी महाराज ने बताया कि यह यज्ञ जगत कल्याण के उदेश्य से किये जा रहें है। लोगों मे आपसी क्लेश, द्वेष, घृणा, लोभ, माया से मुक्ति के साथ ईश्वर के प्रति भक्ति भाव पैदा करना है। ताकि हमारा देश अमन-चैन के साथ प्रेम के गीत गाये।

बाबा जी महाराज ने बताया कि मैंने देश के कोनें-कोनें में 85 यज्ञ पूरा किया है। यज्ञ के समपन्न के दिन विशाल भंडारा के उपरांत पूर्णाहुति होगी। यज्ञ के दौरान सभी नौ दिनों तक मेला का आयोजन होगा। मेला में झूला, मीना बाजार एवं मौत का कुआँ आकर्षण बना रहा है।
(बीरेन्द्र कुमार)
सिमुलतला | 03/07/2018, रविवार
www.gidhaur.com