Breaking News

चकाई : संगोष्ठी आयोजित कर BJP कार्यकर्ताओं ने मनाई श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यथिति

[Gidhaur.com | चकाई(जमुई)] :- भाजपाइयों ने शनिवार को जनसंघ के संस्थापक डॉ.श्याम प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि बलिदान दिवस के रूप में मनाई। पार्टी कार्यालय में संगोष्ठी आयोजित कर डॉ.मुखर्जी के सिद्धांतों व जीवन पर प्रकाश डाला गया। उनके कृतित्व पर चर्चा की गई। कार्यकर्ताओं ने उनके बताए हुए रास्तों पर चलने का संकल्प लिया गया। प्रखंड अध्यक्ष शालिग्राम पांडेय की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में डॉ.श्याम प्रसाद मुखर्जी शिद्दत से याद किए गए। कार्यकर्ताओं ने उनकी तस्वीर पर पुष्पांजलि भी अर्पित की। उसके उपरांत आयोजित संगोष्ठी में मुखर्जी को सच्चे अर्थो में मानवता का उपासक बताया। वे सिद्धांत के पक्के इंसान थे। यह नारा 'दो निशान, दो प्रधान, दो विधान नहीं चलेगा' डॉ.मुखर्जी का ही था। कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाने के लिए जोरदार अभियान उन्होंने चलाया। इस मौके पर जिला कार्यसमिति सदस्य अंगराज राय ने कहा कि डॉ.मुखर्जी देश के लिए शहीद हुए थे।
23 जून 1953 को रहस्यमय परिस्थिति में उनकी मौत हुई थी। जब कश्मीर सरकार ने उन्हें नजरबंद किया था।
मौके पर प्रो. प्रदीप कुमार,संतु यादव,सुरेश गिरी,अमित दुबे,संयोग केशरी,रमेश पासवान,लिलो साह, राश बिहारी शुक्ला आदि मौजूद थे।

(सुधीर कुमार यादव)
चकाई  |  23/06/2018, शनिवार
www.gidhaur.com