जमुई : थाने में आयोजित जनता दरबार में पहुंचे डीएम, दिया जरूरी निर्देश



जमुई/बिहार। डीएम राकेश कुमार शनिवार को खैरा और सोनो थाने में लगे जनता दरबार में पहुंचे। यहां संबंधित सीओ और थानाध्यक्ष से भूमि विवाद की सुनवाई किए जाने की जानकारी ली। उन्होंने सीओ और थानाध्यक्ष को प्रखंड के सभी पंचायतों के लिए भूमि विवाद से संबंधित अलग-अलग दस्तावेज रखे जाने का निर्देश दिया ताकि मामलों के निष्पादन  में सहूलियत मिल सके।


 डीएम ने मौके पर कहा कि 144 करने से पहले सीओ और थानाध्यक्ष विवादित भूमि का निरीक्षण करेंगे। 144 लगते ही उस जगह का फोटोग्राफी करेंगे ताकि इससे यह निश्चित हो सके कि बाद में किसी प्रकार का काम तो नहीं हो रहा है। ऐसी स्थिति में अगर काम होता है तो प्राथमिकी दर्ज कर दोषी व्यक्ति पर कार्रवाई किया जाए। धारा 144 के बाद 107 की भी कार्रवाई की जाए ताकि दोनों पक्षों के बीच विवाद उत्पन्न ना हो। 


उन्होंने थाने में होने वाले साप्ताहिक परेड में सीओ और थानाध्यक्ष को सामूहिक रूप से उपस्थित होने को कहा और परेड में उपस्थित चौकीदारों से भूमि से संबंधित विवादों को सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया ताकि अनावश्यक विवाद बढ़ ना सके और समय रहते ही इन मामलों का निष्पादन किया जा सके। 


उन्होंने जनता दरबार में स्थानीय स्तर पर भूमि विवाद के साथ अतिक्रमण का मामला निपटाए जाने की बात कही। इसके अंतर्गत शीघ्र भूमि की मापी कराए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि अभिलेखों का समुचित संधारण किया जाए। सभी पंचायत भवन में गैर मजरुआ खाते की भूमि का प्रदर्शन किया  जाना चाहिए। डीएम ने कहा कि जिले में अमीनों की संख्या पर्याप्त है। इनका यथोचित इस्तेमाल कर भूमि विवाद का हल किया जाना सुनिश्चित करें। 


उन्होंने पारदर्शी तरीके से नापी की तिथि तय किए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि निर्धारित शुल्क जमा करा कर शीघ्रता से मामलों का निस्तारण कराएं। डीएम ने खैरा सीओ के कार्य शैली पर असंतोष व्यक्त करते हुए उन्हें कड़ी फटकार लगाई वहीं सोनो सीओ के कार्य पर संतोष जताया।

     

उधर सीओ के जनता दरबार में कई भूमि विवाद उपस्थापित किए गए जिसका विधि सम्मत ढंग से समाधान किया गया।

Post a Comment

Previous Post Next Post