झाझा के पीयूष ने किया जिले का नाम गौरवान्वित, रील बनाकर जीता पुरस्कार

झाझा/जमुई। जमुई जिलांतर्गत झाझा निवासी पियूष केशरी ने रील बनाकर अपने क्षेत्र का नाम राज्य स्तर पर रोशन किया है। हाल ही में पर्यटन विभाग, बिहार सरकार द्वारा रील मेकिंग प्रतियोगिता में सांत्वना पुरस्कार हेतु चयन होने पर पीयूष के परिवार में खुशी छा गई। उन्हें यह पुरस्कार 18 जनवरी 2024 को पटना में प्रदान किया गया है। पुरस्कार के रूप में दस हजार रुपए का चेक तथा प्रशस्ति पत्र दिया गया। पीयूष के पिता रामचंद्र केशरी का  व्यवसाय है तथा मां गृहणी हैं।

पीयूष की शिक्षा झाझा के सैरडोनिक स्कूल से हुई है। इस विद्यालय से वह वर्ष 2021 में दसवीं पास आउट हैं। इस मौके पर सैरडोनिक्स स्कूल के निदेशक एम अख्तर ने कहा कि पीयूष ने अपने परिवार के साथ-साथ अपने विद्यालय का भी नाम रौशन किया है। बच्चे किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़कर अपने हुनर का परिचय दे सकते हैं। यह पुरस्कार पीयूष को मिला है जो की अन्य बच्चों के लिए प्रेरणा स्रोत है।
वहीं पियूष की इस उपलब्धि पर मिलेनियम स्टार फाउंडेशन के अध्यक्ष सुशांत साईं सुंदरम, डॉ. सिन्हाज हेल्थकेयर एंड रिसर्च फाउंडेशन की अध्यक्ष कामिनी सिन्हा, उन्नति क्लासेज की निदेशक अपराजिता सिन्हा, लाइफ हेल्थ मेडिकल यूनिट की मोनालिसा भारती, समाजसेवी शंभू केशरी, शिवशंकर केशरी, चंद्रभूषण झा सहित अन्य ने बधाई दी है।

Post a Comment

Previous Post Next Post