जमुई : नक्सल प्रभावित गांवों का डीएम कर रहे हैं भ्रमण, कर रहे समस्याओं का निवारण

जमुई/बिहार। साहसी जिलाधिकारी राकेश कुमार झाझा प्रखंड के जुड़पनिया , नारगंजो समेत कई नक्सल प्रभावित गांवों का भ्रमण किया और वहां विद्यालय , आंगनवाड़ी केंद्र आदि का निरीक्षण किया और ग्रामीणों की कई समस्याओं को जाना। उन्होंने मौके पर उन्हें इन ज्वलंत समस्याओं का विधि सम्मत ढंग से समाधान किए जाने का भरोसा दिलाया। डीएम को देखकर ग्रामीण मुदित नजर आए।

अंकित करने वाली बात है कि नक्सल प्रभावित जमुई जिला का कुछ इलाका ऐसा है जहां नक्सलियों की काफी पैठ मानी जाती है। उन्ही में से एक है जुड़पनिय। एक लंबे अरसे बाद जिले के अंतिम छोर पर बसे इस धुर नक्सल प्रभावित गांव में जिला प्रशासन खुद चल कर पहुंचा। वहां नक्सलियों की दहशत इतनी है कि विकास के कार्यो को गति देना अंदरूनी इलाकों में प्रशासन के लिए किसी चुनौती से कम नहीं। इन सबके बावजूद जिला कलेक्टर राकेश कुमार अपनी टीम के साथ वहां पहुंच कर ग्रामीणों से रूबरू हुए।
वे अपने दौरे के क्रम में कई गांवों के लोगों से सीधा संवाद किया साथ ही उनकी परेशानियों को जाना और उन्हें इसके निदान किए जाने का भरोसा दिलाया। ग्रामीणों की मांग और जरूरतों के अनुरूप राशन कार्ड , आवास , पेयजल , सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण , सामाजिक सुरक्षा पेंशन आदि की उपलब्धता सुनिश्चित किए जाने का ऐलान किया। उन्होंने मौके पर हाड़ कंपाने वाली ठंड के मद्देनजर वृद्ध एवं लाचार व्यक्तियों के बीच कंबल का वितरण किया। डीएम के द्वारा कंबल वितरण किए जाने से ग्रामीण बेहद खुश नजर आए।
सर्वविदित है कि ग्राम जुड़पनिया और नारगंजो घोर नक्सल प्रभावित इलाका होने के कारण ग्रामीणों को यथोचित सुविधाएं मयस्सर नहीं हो पा रही है। राकेश कुमार के जैसे ही बड़ा प्रशासनिक अधिकारी यहां आने की साहस जुटाते हैं। नया साल 2024 के शुरुआती दौर में एक जिला कलेक्टर ने ग्रामीणों के बीच पहुंचकर ना केवल उनकी समस्याओं को जाना बल्कि उसे दूर करने का आश्वासन देते हुए दुबारा जल्द आने का भी उन्हें भरोसा दिलाया। उन्होंने मौके पर कई ग्रामीण महिलाओं को समूह में जमुई आकर उनसे मिलने का भी उन्हें न्यौता दिया। महिलाएं डीएम के मानवीय मूल्यों को देखकर प्रसन्नता से सराबोर हो गईं।

एसडीएम अभय कुमार तिवारी , सिविल सर्जन डॉ. कुमार महेंद्र प्रताप , जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी आर. के. दीपक ,के अलावे जिलास्तर के अधिकांश अधिकारी मौके पर उपस्थित थे।

Post a Comment

Previous Post Next Post