गिद्धौर में बीमार कर रहा बदलता मौसम, बुखार-बदन दर्द हो रहा कॉमन

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui), 05 नवंबर 2023, मंगलवार : मौसम बदलने के साथ ही मौसमी बीमारियों से प्रखंड भर के लोग पीड़ित होने लगे है।पिछले दस दिनों से सरकारी अस्पतालों व निजी क्लीनिकों में मरीजों की काफी संख्या बढ़ी है। अधिकतर मरीज बुखार, सिर दर्द, बदन दर्द व सर्दी-खांसी की शिकायत लेकर पहुंच रहे है।जिन लोगों की इम्युन सिस्टम कमजोर है।उन्हे परेशानी ज्यादा हो रही है।बुखार होने पर लोगों को डेंगू का भय सता रहा है। ऐसे मरीजों को डॉक्टर तीन दिनों की दवा लिख रहे है।बुखार ठीक नही होने पर मरीजों की डेगू,मलेरिया व टाइफाइड की जाँच करायी जा रही है।

गिद्धौर के दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ. प्रदीप कुमार का कहना है -
"आने और जाने वाली ठंड में बीमार होने की संभावना अधिक होती है। सुबह शाम हल्की ठंड व दोपहर में गरमी के कारण लोगों का इम्युन सिस्टम बिगड़ रहा है।मौसम के हिसाव से शरीर अनुकूल नही होने के कारण लोग बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं।"
एलर्जी व दमा के मरीज दवाएं नही छोड़े
बदलते मौसम में एलर्जी व दमा के मरीजों की परेशानी बढ़ जाती है।ऐसे मौसम में अधिकतर कफ जमने की शिकायत होती है।जिसे सीने में इनफक्शन हो जाता है।इनकों दवाएं नियमित तौर पर लेना चाहिए और डाँक्टर के संपर्क में रहना चाहिए। इस मौसम में दमा के मरीजों में अटैक का खतरा ज्यादा होता है।इस कारण दवाइयां की डोज भी बढ़ानी पड़ती है।

इसके अलावा डायबिटीज व ब्लड प्रेशर वाले मरीजों की भी परेशानी बढ़ जाती है।ऐसे मरीजों को किसी भी हालत में दवाएं नही छोड़नी चाहिए।जब तक ठंड पूरी तरह नही आती है।मरीजों को विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है।

Post a Comment

Previous Post Next Post