सूबे की सरकार में असुरक्षित पत्रकार, आईरा की बैठक में पत्रकारों के हित में उठी आवाज़

रिपोर्ट:- शुभम मिश्र (संपादक)
खैरा,जमुई/Khaira, Jamui,21अगस्त 2023
जिले के खैरा बाज़ार स्थित गायत्री आवासीय विद्यालय के प्रांगण में रविवार को ऑल इंडिया रिपोर्टर्स एसोसिएशन (आईरा) द्वारा एक बैठक जिलाध्यक्ष डा. विभूति भूषण सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई।इस बैठक में बीते शुक्रवार को अररिया में हुए दैनिक जागरण के पत्रकार विमल यादव की गोलियों से मारकर निर्मम हत्या किये जाने को लेकर चर्चा करते हुए आगे की रणनीति पर विचार किया गया।सर्व प्रथम पत्रकारों ने 2 मिनट का मौन रखकर दिवंगत पत्रकार को भावभीनी श्रद्धांजलि दी।
पत्रकारों पर हो रहे हमले पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए डा.विभूति भूषण ने कहा कि कलम के पहरेदार पर हमला लोकतंत्र पर हमला है।पत्रकार को लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ कहा जाता है,यह वह दर्पण है जो सिस्टम की खामियों एवं कमियों को उजागर करता है ताकि समाज का विकास हो सके।बावजूद इस प्रकार से हो रहे हमले सरकार के लाॅयन-आर्डर पर प्रश्न चिह्न लगाता है।हमलोग जान जोखिम में डालकर खबरें संकलन करते हैं।

जनता की बातों को सरकार तक पहुंचाते हैं और सरकार की बातों को जनमानस तक।कई बार सुदूर इलाकों से खबरें संकलन करने के लिए आना-जाना पड़ता है,तो कई बार अपराधियों एवं असमाजिक तत्वों द्वारा धमकियों का भी सामना करना पड़ता है।इस कारण हमलोगों ने सरकार से अपनी आत्मसुरक्षा व पत्रकारों के हित को लेकर पत्रकारों को शस्त्र अनुज्ञप्ति देने की मांग, पत्रकार बीमा योजना,सरकारी योजनाओं में पत्रकारों को लाभ देने एवं बिहार में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने की मांग की है।
जिसको लेकर 23 अगस्त को जिले के सभी पत्रकार द्वारा प्रतिरोध मार्च निकालते हुए जिलाधिकारी जमुई के मार्फत सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ज्ञापन देने का विचार किया गया है।वहीं बतादें कि इस हत्याकांड को लेकर जिले के कई पत्रकार संगठनों ने भी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।वहीं बैठक में मौजूद पत्रकारों ने हत्या में संलिप्त अपराधियों को कड़ी-से-कड़ी सजा देने का आह्वान किया है।

इस मौके पर पत्रकार धीरज कुमार सिंह, हेमंत कुमार, विकास कुमार, राकेश कुमार, राजीव रंजन, रवि रंजन,नितेश केशरी, शुभम मिश्र, कन्हैया कुमार, संजीत कुमार, हरिओम कुमार,विवेक कुमार,विश्वजीत कुमार सिंह, गोपाल पाण्डेय,भीमराज सहित दर्जनों पत्रकार मौजूद थे।

Post a Comment

Previous Post Next Post