गिद्धौर : 9 सूत्री मांगों को लेकर आशा कार्यकर्ता और फैसिलिटेटर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui), 29 जुलाई 2023 : आशा कार्यकर्ता एवं आशा फैसिलिटेटर के संयुक्त मंच के आह्वान पर 9 सूत्री मांगों को लेकर गुरुवार से दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गिद्धौर के आशा एवं आशा फैसिलिटेटर हड़ताल पर चली गई। जिससे आशा कार्यकर्ताओं से जुड़ा कार्य बाधित हो गया।इस दौरान गुरुवार को आशा एवं आशा फैसिलेटर ने संघ के रीना देवी के नेतृत्व में गिद्धौर पीएचसी के मुख्य गेट बंद कर प्रदर्शन कर अपनी मांगों के समर्थन में सरकार के खिलाफ जमकर नारे बाजी की।
मौके पर मौजूद संघ के आशा फैसिलिटेटर ने बताया कि हड़ताल की सूचना प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को देते हुए अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने ने कहा कि 2005 से ही हम आंदोलन कर रहे हैं।लेकिन सरकार इस पर विचार नहीं कर रही है। पूर्व में स्वास्थ्य मंत्री ने घोषणा की थी कि आशा कार्यकर्ताओं का मानदेय बढ़ाया जाएगा।

उन्होंने सरकारी सेवक घोषित करने, 1000 के बदले 21000 मानदेय देने और आशा फैसिलिटेटर को 20 दिन के बदले 30 दिन 500 रुपये के दर से भुगतान करने की मांग किया। वहीं आशा कार्यकर्ता सुधा कुमारी, जूली कुमारी, रिंकी कुमारी ,रुबिया देवी ने कहा किअगर सरकार मांगों को पूरा नहीं करती है तो आने वाले समय में आंदोलन को और तेज करेंगे, जिसकी जवाबदेही स्वास्थ्य प्रशासन की होगी।
बता दें कि आशा कार्यकर्ताओं का गुरुवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने से इसका सीधा असर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दिखने लगा है। आशा कार्यकर्ता गर्भवती महिलाओं की सेवा में लगी रहती थी।लेकिन अब अस्पताल प्रसव के लिए आने वाली गर्भवर्ती महिलाओं को काफी परेशानी होगी।

मौके पर आशा कार्यकर्ता पूजा कुमारी, रेनू कुमारी, ललिता कुमारी, रूबी देवी, सीमा कुमारी, सरिता देवी आदि मौजूद थे।

Post a Comment

Previous Post Next Post