Breaking News

6/recent/ticker-posts

जमुई : के. के. एम. कॉलेज परिसर में हुआ मेगा ट्री प्लांटेशन कार्यक्रम का आयोजन

जमुई (Jamui), 27 जुलाई 2023 : मुंगेर विश्वविद्यालय (Munger University) के आदेश अनुसार जिला मुख्यालय स्थित अंगी भूत कुमार कालिका मेमोरियल महाविद्यालय के परिसर में मेगा ट्री प्लांटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया गया जिसके तहत प्रधानाचार्य डॉ चंद्रमा सी सहित सभी शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों के द्वारा वृक्षारोपण किया गया। शीशम सागवान महोगनी नीम अमरूद पीपल यादी कई प्रकार के वृक्ष लगाए गए।

के के एम कॉलेज (KKM College) के प्रधानाचार्य डॉ चंद्रमा सिंह (Principal Dr. Chandrama Singh) ने कहा कि वृक्षारोपण मानव समाज का सांस्कृतिक दायित्व है। मानव सभ्यता का उदय और आरंभिक आश्रय प्रकृति अर्थात वन-वृक्ष ही रहे हैं। इसलिए वृक्ष लगाना हमारा कर्तव्य भी है। उन्होंने लगाए गए वृक्षों को सिंचाई कर जीवित रखने का भी कर्मचारी को निर्देश दिया। क्योंकि वृक्ष के समान होते हैं।
जीव विज्ञान के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. दीपक कुमार ने कहा कि वृक्षारोपण महायज्ञ के समान है. वृक्षों से हमें कीमती लकड़ियां, फल फूल तथा औषधियां भी प्राप्त होती हैं।उन्होंने कहा कि जीव जंतुओं के लिए वृक्षों का होना जरूरी है। इतना ही नहीं वृक्षों के कारण ही हमें वर्षा जल एवं पेयजल की प्राप्ति हो रही है। वृक्षों की पत्तियां धरती के जल का शोषण कर बादल बनता है और फिर वर्षा होती है। यदि वृक्ष सिर्फ यूं ही कटती रहे और वृक्ष नहीं लगाए जाएं तो एक दिन वनों की विनाश के साथ-साथ मानव जीवन भी विरान बनकर रह जाएगा।

स्नातकोत्तर अर्थशास्त्र के विभागाध्यक्ष डॉ. गौरी शंकर पासवान ने कहा कि वृक्ष देश का ऐसेट होता है। इसलिए हर प्रकार के वृक्ष लगाने चाहिए। फलदार ,छायादार, औषधीय एवं मूल्यवान वृक्षों को लगाना चाहिए। निरंतर वृक्षारोपण और उनके रक्षण के लिए सांस्कृतिक दायित्व का निर्वहन कर सृष्टि को अकाल के भावी विनाश से बचाया जा सकता है। व्यक्ति और समाज दोनों स्तरों पर ध्यान दिया जाना बहुत जरूरी है। यदि आप एक वृक्ष काटते हैं तो दो नए वृक्ष लगाना आपका धर्म और सांस्कृतिक कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि जब तक पृथ्वी वृक्ष तथा पहाड़ों से युक्त एवं वनों से समृद्ध रहेगी, तब तक मानव का पालन-पोषण करती रहेगी।
प्रो रणविजय सिंह प्रो अनिंदो सुंदर पोले ने कहा कि मानव और पर्यावरण में गहरा संबंध है । प्रकृति और पर्यावरण स्वक्छ और संतुलित रहेगा सभी मनुष्य निरोग और जीवित रह सकेगा। अतः प्रकृति को बचाना है तो वृक्ष लगाना अत्यंत जरूरी है।

मौके पर प्रो मनोज कुमार, प्रो डी के गोयल, प्रो सत्यार्थ प्रकाश, प्रो सरदार राम, प्रो कैलाश पंडित, प्रो पंकज कुमार, शुभम प्रकाश,अजीत भारती, रवि शंकर, प्रो रूपम कुमारी, प्रो गौरी सिंह ,प्रो श्वेता सिंह तथा रवीश कुमार सिंह आदि ने प्रकृति और पृथ्वी संरक्षण के लिए वृक्षारोपण को अनिवार्य बताया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ