Breaking News

6/recent/ticker-posts

जमुई : माहवारी स्वच्छता दिवस पर संवेदना रैली आयोजित, श्रम अधीक्षक ने किया संबोधित

जमुई (Jamui), 28 मई 2023 : मासिक धर्म के दौरान अगर महिलाएं और किशोरियां स्वच्छता का विशेष ध्यान रखने के साथ सेनेटरी नैपकिन का प्रयोग करें तो वे कई बीमारियों से बच सकती हैं और एक स्वस्थ जीवन जी सकती हैं। 

श्रम अधीक्षक पूनम कुमारी ने उक्त बातें समाहरणालय के संवाद कक्ष में माहवारी स्वच्छता जागरूकता दिवस पर आयोजित संवेदना रैली को संबोधित करते हुए कही। संवेदना अभियान के अंतर्गत रैली का आयोजन जिला प्रशासन , महिला एवं बाल विकास निगम तथा समाज कल्याण विभाग ने संयुक्त रूप से किया।
श्रम अधीक्षक ने आगे कहा कि जागरूकता के अभाव में कई महिलाएं मासिक धर्म के दौरान स्वच्छता का ध्यान नहीं रखती हैं और अक्सर संक्रमण की चपेट में आ जाती हैं। ऐसी महिलाओं में यौन रोग , गर्भाशय कैंसर और बांझपन जैसी गंभीर बीमारियों की आशंका बढ़ जाती है। जानकार बताते हैं कि महिलाओं का एक बहुत बड़ा वर्ग आधुनिक युग में भी सेनेटरी नैपकिन का प्रयोग नहीं कर रहा है। इसके मद्देनजर जिले में संवेदना अभियान शुरू किया गया है।

इस अभियान के तहत जिले की महिलाओं को मासिक धर्म के दरम्यान ज्यादा से ज्यादा स्वच्छता बरतने का संदेश दिया जा रहा है। माहवारी के संबंध में उनकी शंकाओं का समाधान किया जा रहा है। श्रम अधीक्षक ने खास कर 15 से 24 वर्ष की आयु की किशोरियों और युवतियों से गुजारिश करते हुए कहा कि आप सभी स्वच्छता के महत्व को जानें और इस पर अमल करें। थोड़ी सी लापरवाही से आप कई बीमारियों की शिकार हो सकती हैं। कई बीमारी जानलेवा भी हो सकता है।
आईसीडीएस की डीपीओ रेणु कुमारी ने कहा कि महिलाएं मासिक धर्म के प्रति सजग और सचेत रहें। उन्होंने सेनेटरी नैपकिन के इस्तेमाल को बढ़ावा दिए जाने पर बल देते हुए कहा कि इसका निस्तारण भी किताबी ढंग से किया जाना चाहिए।

सीडीपीओ, महिला एवं बाल विकास निगम की डीपीएम, महिला पर्यवेक्षिका, आगनवाड़ी सेविका और सहायिका, आशा दीदी, जीविका दीदी समेत कई संबंधित अधिकारी एवं कर्मी इस अवसर पर उपस्थित थे।
उधर माहवारी स्वच्छता दिवस के अवसर पर राजकीय कन्या मध्य विद्यालय , +2 राज्य संपोषित बालिका उच्च विद्यालय समेत कई स्कूलों की शिक्षिकाओं और छात्राओं ने जमुई शहर में संवेदना रैली निकाला और किशोरियों , युवतियों और महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान ज्यादा से ज्यादा स्वच्छ रहने का संदेश दिया। रैली में शामिल बेटियां पढ़ो लिखो आगे बढ़ो - पैड मांगने की झिझक तोड़ो , पीरियड में शर्म छोड़ो बहन - नैपकिन का करो जतन आदि नारे लगा रही थी। संवेदना रैली कचहरी चौक , महाराजगंज , थाना चौक , सदर अस्पताल आदि मार्गों से गुजरते हुए समाहरणालय पहुंचा। यहीं पर इसका समापन किया गया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ