गिद्धौर : विश्व मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन दिवस पर सेवा गांव में परिचर्चा आयोजित

सेवा/गिद्धौर (Sewa/Gidhaur), 28 मई 2023 : गिद्धौर प्रखंड के सेवा गांव में रविवार को परिवार विकास चाइल्डफंड इंटरनेशनल के सहयोग से विश्व मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन दिवस पर एक दिवसीय परिचर्चा का  आयोजन किया गया जिसमें गांव के किशोरियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर उपस्थित किशोरियों को संबोधित करते हुए संस्था के स्वास्थ्य समन्वयक उपेंद्र यादव ने कहा -
मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन दिवस के अवसर पर दुनिया भर में रैलियों, फिल्म स्क्रीनिंग, थिएटर, प्रदर्शनियों, कार्यशालाओं, सेमिनारों, भाषणों, और सोशल मीडिया अभियानों के माध्यम से मनाया जा रहा है। महिलाओं को मासिक धर्म एक प्राकृतिक शारीरिक प्रक्रिया है, न कि कोई बीमारी। जैसा कि अब भी बहुत से लोग सोचते हैं। हर महीने होने वाली यह एक ऐसी प्रक्रिया है जो हर महिला के शरीर को गर्भधारण के लिए तैयार करती है। इस विषय में किसी तरह की समस्या हो तो खुलकर बात करनी चाहिए संकोच करने से संक्रमण फैलता है जिसके कारण कोई मां बांझपन, मृत बच्चा, कुपोषित बच्चा और नाटा बच्चा जन्म दे सकती है। एक स्वस्थ्य किशोरी ही एक स्वस्थ्य परिवार का निर्माण कर सकती है। 
वहीं आंगनबाड़ी सेविका माला देवी ने बताया -
मासिक धर्म के दौरान हमेशा नैपकिन पैड का इस्तेमाल करना चाहिए किसी भी परिस्थिति में कपड़ा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए एक बार इस्तेमाल करने के बाद उसे दूसरी बार इस्तेमाल नहीं करना चाहिए इस्तेमाल की हुई पैड को मिट्टी में दबा देना चाहिए।

इस अवसर पर संस्था के स्वास्थ्य समन्वयक उपेन्द्र यादव, आंगनबाड़ी सेविका माला देवी, गायत्री कुमारी, वर्षा कुमारी, छोटी कुमारी, सपना कुमारी, प्रगति कुमारी, तनु कुमारी के अलावे दर्जनों किशोरियां मौजूद रहीं।

Post a Comment

Previous Post Next Post