पटना में जल्द खुलेगा अमन समिति का कार्यालय; समाज में भाईचारा, मानवतावाद बढ़ाना है उद्देश्य

पटना (Patna), 3 अप्रैल : प्रेम, सद्भाव एवं भाईचारा के प्रचार-प्रसार की जरूरत और युवाओं में मानवतावाद की समझ विकसित करने के उद्देश्य से अमन समिति की गतिविधियों को  बढ़ाया जायेगा। इसे लेकर जल्द ही पटना में अमन समिति का कार्यालय खोला जायेगा। उक्त जानकारी अमन समिति के संस्थापक धनंजय कुमार सिन्हा ने दी।

उन्होंने बताया कि अमन समिति से जुड़े सभी साथियों के साथ शीघ्र ही बैठक की जायेगी। अगले 3 वर्षों की कार्य-योजना तय करके उन्हें पूरा करने के लिए चरणबद्ध तरीकों से श्रम किया जायेगा।

वहीं उन्होंने कहा कि अमन समिति के कार्यों को सही ढंग से संचालित करने के उद्देश्य से मेरी इच्छा है कि मैं भविष्य में किसी भी राजनैतिक पार्टी का सदस्य न बनूं।

धनंजय ने आगे कहा कि वर्तमान में मैं एक राजनैतिक अभियान जन सुराज का वॉलंटियर भी हूं, किंतु अभी यह राजनैतिक पार्टी नहीं है। संभव है कि भविष्य में इस अभियान द्वारा राजनैतिक पार्टी का भी गठन किया जाए। मेरी इच्छा है कि तब मैं राजनैतिक पार्टी में न जाकर अगर इस अभियान के अन्तर्गत राजनैतिक पार्टी से अलग भी कोई संगठन गठित किया जायेगा तो उसका हिस्सा बनूं।

अमन समिति (Aman Samiti) के बारे में धनंजय ने बताया कि इसका कॉन्सेप्ट स्वराज अभियान के अंग के रूप में निर्धारित किया गया था। यह कांसेप्ट मुझे बहुत पसंद आया था। साथी उज्ज्वल भाई ने बताया था कि अमन समिति मूल रूप से वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशान्त भूषण जी (Prashant Bhushan) का कॉन्सेप्ट है। स्वराज अभियान के अन्तर्गत तो इस चैप्टर की शुरूआत नहीं हो सकी थी, पर मैंने प्रोफेसर आनन्द कुमार जी की सहमति एवं अनुमति लेकर कुछ साथियों के साथ 20 अगस्त 2015 को सद्भावना दिवस के अवसर पर पटना में स्वतंत्र रूप से अमन समिति का गठन करके इसकी गतिविधियों को शुरू किया था। 

अमन समिति के संयोजक धनंजय कुमार सिन्हा (Dhananjay Kumar Sinha) ने कहा कि अब अमन समिति की गतिविधियों को तेज करने की आवश्यकता महसूस हो रही है। अतः शीघ्र ही साथियों के साथ बैठक करके आगे की रूपरेखा एवं कार्यक्रमों को निर्धारित कर इसकी गतिविधियों एवं कार्यक्रमों को तेज किया जायेगा।

Post a Comment

Previous Post Next Post