जमुई : तृतीय स्नातक स्तर संयुक्त पीटी परीक्षा 23 को, 6 केंद्रों पर 2864 अभ्यर्थी आजमाएंगे तकदीर

जमुई (Jamui), 15 दिसंबर : जिला कलेक्टर अवनीश कुमार सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय के संवाद कक्ष में अधिकारियों की महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई , जिसमें बिहार कर्मचारी चयन आयोग द्वारा निर्धारित तृतीय स्नातक स्तरीय संयुक्त प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा के सफल आयोजन को लेकर गम्भीरतापूर्वक विचार किया गया।
    
डीएम ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जमुई में तृतीय स्नातक स्तर संयुक्त प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा 23 दिसंबर को होगी। ओपन बुक सिस्टम के तहत होने वाली इस परीक्षा को दो पालियों में आयोजित किया जाएगा। प्रथम पाली पूर्वाह्न 10 : 00 बजे से अपराह्न 12 : 15 बजे और द्वितीय पाली अपराह्न 02 : 00 बजे से 04 : 15 बजे तक निर्धारित है। 

जमुई जिला में +2 उच्च विद्यालय जमुई बाजार परीक्षा केंद्र पर 560 , +2 राज्य सम्पोषित बालिका उच्च विद्यालय जमुई केंद्र पर 450 , उच्च विद्यालय खैरा केंद्र पर 600 , परियोजना बालिका उच्च विद्यालय खैरा केंद्र पर 400 , +2 जनता उच्च विद्यालय सतायन केंद्र पर 504 तथा एसवाईएम राजकीय उच्च विद्यालय बरहट परीक्षा केंद्र पर 350 अभ्यर्थी शामिल होंगे। त्रिस्तरीय जांच के बाद परीक्षार्थियों को परीक्षा कक्ष में प्रवेश करने दिया जाएगा।

कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के लिए पर्याप्त संख्या में प्रेक्षक , दंडाधिकारी , उड़नदस्ता के साथ पुलिस के जवान तैनात किए जाएंगे। 200 अभ्यर्थियों पर एक वीक्षक को तैनात किया जाना है। इस परीक्षा की सबसे खास बात यह है कि प्रत्येक अभ्यर्थियों के पुतली की जांच की जाएगी और उनका तस्वीर लिया जाएगा।

समाहर्त्ता ने आगे कहा कि आयोग के गाइडलाइंस के मुताबिक प्रारंभिक परीक्षा किताब सहित ली जाएगी। अभ्यर्थी अपने साथ तीन पुस्तक अर्थात प्रत्येक खंड के लिए एक ही बुक ले जा सकेंगे। सामान्य अध्ययन , गणित और सामान्य विज्ञान खंडों के लिए एनसीईआरटी , बीएसईबी , आईसीएसई अथवा अन्य बोर्डों के टेक्स्ट बुक साथ ले जाने की छूट होगी। 

परीक्षा कक्ष में किसी विषय से सम्बंधित गाइड , पुस्तक की फोटो कॉपी , हस्तलिखित कागज , इलेक्ट्रॉनिक उपकरण आदि ले जाना निषेध है। परीक्षा के दरम्यान पुस्तकों का आदान - प्रदान भी नहीं किया जा सकेगा। किताब में क्रमांक और नाम के अलावे अन्य कुछ भी लिखा नहीं होना चाहिए। परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट बाद टेक्स्ट बुक और ओएमआर शीट में फेरबदल नहीं होगा। परीक्षा कक्ष में जनप्रतिनिधियों के साथ मीडियाकर्मियों का प्रवेश निषेध रहेगा। दृष्टि बाधित अभ्यर्थियों को लेखक के साथ 34 मिनट अतिरिक्त समय दिए जाएंगे।

अभ्यर्थियों के जूता पहनकर आने पर पाबंदी होगी। जो परीक्षार्थी पहनकर आएंगे वह उसे प्रवेश द्वार पर ही उतार देंगे। एक बेंच पर अधिकतम दो परीक्षार्थी बैठेंगे। महिला अभ्यर्थियों की यथोचित जांच के लिए महिला अधिकारी , महिला वीक्षक और महिला पुलिस कर्मियों को भी तैनात किया जाएगा। परीक्षा कक्ष में कोई वीक्षक या अन्य सम्बंधित जन मोबाइल नहीं रखेंगे। सीट प्लान की एक प्रति मुख्य प्रवेश द्वार पर चिपकाना अनिवार्य है।

जिलाधीश ने कहा कि प्रश्न पत्रों को वायरल होने से बचाने के लिए सभी नामित परीक्षा केंद्रों पर जैमर लगाया जाएगा। कदाचार मुक्त परीक्षा के संचालन के लिए फोटोग्राफी के साथ वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी। महिला परीक्षार्थियों का केंद्र गृह जिला में दिया गया है वहीं पुरूष अभ्यर्थियों का केंद्र समीप के जिला में नामित किया गया है।

जिलाधिकारी ने तल्ख तेवर अपनाते हुए कहा कि दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने स्वच्छ परीक्षा के आयोजन को जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता बताते हुए कहा कि अभ्यर्थियों के साथ अभिभावकों से सकारात्मक सहयोग की अपेक्षा है।

पुलिस अधीक्षक डॉ. शौर्य सुमन ने कहा कि तृतीय स्नातक स्तरीय संयुक्त प्रारंभिक प्रतियोगिता परीक्षा के दरम्यान विधि व्यवस्था कायम रखने के लिए सुरक्षा का पुख्ता प्रबंध किया जाएगा। परीक्षा केंद्र के बाहर पुलिस के जवान तैनात किए जाएंगे। अवांछित तत्वों पर गिद्ध दृष्टि रखी जाएगी। फोटो स्टेट की दुकानों पर भी चौकसी रहेगी। उन्होंने सम्बंधित जनों से कदाचार मुक्त परीक्षा के आयोजन में सहयोग देने की अपील की।

डीडीसी शशि शेखर चौधरी , एडीएम सत्येंद्र कुमार मिश्र , एसडीएम अभय कुमार तिवारी , डीटीओ मो. इरफान आलम , नजारत उप समाहर्त्ता स्वतंत्र कुमार सुमन , डीपीआरओ शशांक कुमार , वरीय उप समाहर्त्ता भारती राज , डीसीएलआर मो. शिवगतुल्लाह , जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी आर. के. दीपक , डीईओ कपिलदेव तिवारी , एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार , डीएसपी मुख्यालय अभिषेक सिंह समेत अधिकांश सम्बंधित अधिकारियों ने बैठक में हिस्सा लिया और जिलाधिकारी के निर्देशों को आत्मसात कर उसे धरा पर उतारे जाने का संकल्प व्यक्त किया।

Post a Comment

Previous Post Next Post