जमुई में नकली पत्रकारों की धार में दहे जा रहे हैं असली कलमकार

जमुई (Jamui), 20 नवंबर : जिले में इन दिनों नकली पत्रकारों से असली कलमकारों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल जिन पत्रकारों को पत्रकारिता का मौलिक ज्ञान भी नहीं है वे लोग हाथ में माइक लेकर अपने आपको जिला का बड़ा पत्रकार कहते हुए सम्पूर्ण जिले में बिना किसी रोक - टोक के घूमने के साथ पत्रकारिता की आड़ में संविधान के चौथे खंभे की छवि को तार - तार कर रहे हैं। 

तथाकथित लोग गाड़ियों पर बड़े - बड़े शब्दों में प्रेस लिखाकर दबंगई दिखाना और यहां की संचिका में पंजीकृत संवाददाताओं को अपमानित करना अपना जन्म सिद्ध अधिकार समझते हैं।

जमुई के कई असली कलमकार नाम नहीं उजागर करने की शर्त्त पर जमुई जिला के हर वर्ग के लोगों से अपील करते हुए कहा कि फर्जी पत्रकारों को पहचानें और उनसे दूरी बनाएं। सम्बंधित लोगों ने कहा कि समाचार संकलन करने आए पत्रकारों का नाम पूछकर इसकी पुष्टि विभागीय कार्यालय से करें तदुपरांत उन्हें खबर की यथोचित जानकारी दें।

पीएमपी टीवी न्यूज के निदेशक पंकज कुमार मिश्रा का कहना है कि यूट्यूब चैनल चलाने वाले कुछ लोगों को प्रिंटिंग प्रेस से आसानी से माइक मिल जाता है। वे लोग वहां कुछ पैसे देकर एक नकली माइक आईडी तैयार कर लेते हैं। इसके बाद वे अपने आपको पत्रकार कहते हुए इंटरनेट मीडिया पर अपनी तस्वीरें वायरल करना शुरू कर देते हैं। इससे जिला के हर  वर्ग के लोग इन सबको पत्रकार समझकर इनसे धोखा खा रहे हैं। उन्होंने प्रिंटिंग प्रेस को चिंहित कर उन्हें भी बेनकाब किए जाने की जरूरत बताई।

छायाकार राजीव कुमार सिंह उर्फ पप्पू जी ने सही पहचान पत्र के साथ पुख्ता कागजात रखने वाले पत्रकारों को संवाद संकलन में तबज्जो  दिए जाने की जरूरत बताते हुए कहा कि इससे इनके हितों की रक्षा होगी और नकलियों का मनोबल टूटेगा।

जिला संवाददाता डॉ. निरंजन कुमार , भूपेंद्र सिन्हा , अशोक कुमार सिन्हा ,अभिषेक सिन्हा , वीरेंद्र कुमार , लकी जी आदि ने भी नकली कलमबाजों को पहचानने की जरूरत बताते हुए कहा कि अवाम पत्रकारों के हितों की रक्षा करे ताकि वे कुशलतापूर्वक दायित्वों का निर्वहन कर सकें।

Post a Comment

Previous Post Next Post