Breaking News

जमुई के गांव में बोरिंग के दौरान मिला कोयला, विधायक श्रेयसी सिंह ने खनन के लिए लिखा पत्र

जमुई (Jamui), 5 सितंबर 
● रिपोर्ट : सुशांत साईं सुंदरम 
जमुई की धरती खनिज संपदा से भरी हुई है। इसके प्रमाण देने की अब कोई आवश्यकता नहीं है। पूर्व में भी भारी मात्रा में सोना और लौह अयस्क मिलने से यह बात पक्की हो चुकी है। पिछले हफ्ते जिले के बरहट प्रखंड के पांड़ो पंचायत के भट्ठा गांव में चापाकल बोरिंग के दौरान काला पदार्थ निकला, जिसे स्थानीय ग्रामीणों ने जब जलाया तो कोयले की तरह ही जलने की बात सामने आई। 

जमुई विधायक सुश्री श्रेयसी सिंह की जानकारी में जब यह बात आई तो उन्होंने संज्ञान लेते हुए कहा कि बरहट प्रखंड के पांड़ो पंचायत के भट्ठा गांव में कोयले की व्यावसायिक स्तर पर खनन करने लायक जितना कोयले का भंडार अगर निकलता है तो यह हम सब के लिए हर्ष की बात होगी।

श्रेयसी ने कहा कि बिहार से झारखंड के अलग हो जाने के बाद बिहार में खनिज संपदा ना के बराबर थी। जमुई जिला मात्र से ही सही, अब बिहार भारत के खनिज मानचित्र पर आ चुका है। जिला में खनिज विकास से संबंधित पदाधिकारियों द्वारा इस पर रिपोर्ट तैयार की जा रही है और खनन एवं भूतत्व विभाग को इसे भेजा जाएगा।

जमुई विधायक श्रेयसी ने बताया कि मेरे द्वारा माननीय खनन एवं भूतत्व मंत्री को पत्र के माध्यम से सूचित कर जल्द से जल्द कोयला भंडार की तय मानदंडों के अनुसार खोज एवं खनन की संभावनाओं की तलाश करने हेतु आग्रह किया गया है।