Breaking News

जमुई जिला में विद्युत ऊर्जा चोरी मामले में 12 लोगों पर दर्ज की गई प्राथमिकी

जमुई (Jamui), 21 सितंबर : जमुई विद्युत आपूर्ति प्रमंडल जिला में विद्युत ऊर्जा की चोरी रोकने के लिए संकल्पित है। विभाग जिले के विभिन्न थानों में मुहिम चलाकर इस दिशा में सख्त से सख्त कार्रवाई कर रहा है।

    इसी संदर्भ में विद्युत सहायक अभियंता के नेतृत्व में गठित टीम ने जमुई शहर के महिसौड़ी चौक पर दबिश दिया और वहां गुरुदेव ठाकुर नामक व्यक्ति को बिजली चोरी करते रंगे हाथ दबोचा। टीम ने श्री ठाकुर पर 70646 रुपया जुर्माना ठोंकते हुए जमुई थाने में सुसंगत धाराओं के तहत उनपर प्राथमिकी दर्ज कराई है। टीम में कनीय अभियंता पप्पू कुमार एवं पूजा कुमारी शामिल थे। विद्युत विभाग के तल्ख तेवर से जमुई शहर के उपभोक्ताओं में हड़कंप मच गया है। सभी सम्बंधित जन सजग और सचेत दिखने लगे हैं।
      
उधर कनीय विद्युत अभियंता , विद्युत आपूर्ति प्रशाखा खैरा ने भी सम्बंधित थाना क्षेत्र के अलग - अलग गांवों विद्युत ऊर्जा की चोरी रोकने का मुहिम चलाया और इस दरम्यान नौ लोगों को बिजली चोरी करते हुए पकड़ा। पकड़े गए लोगों में अंडर कुड़वा के नारायण भगत और टुनटुन भगत शामिल हैं , जिनपर क्रमशः 17581 और 22045 रुपया जुर्माना लगाया गया।

 इसी प्रकार झुंडो गांव के इंद्रदेव पासवान , रामधनी पासवान और राजकुमार पंडित को भी विद्युत चोरी करते पकड़ा गया और इन तीनों पर भी क्रमशः 21070 , 31279 तथा 5230 रुपया जुर्माना लगाया गया। कनीय अभियंता इसी क्रम में दल - बल के साथ  सिगारीटांड़ गांव पहुंचे। यहां पवन साव को बिजली चोरी करते दबोचा और इनपर 7255 रुपया जुर्माना लगाया। 

कनीय अभियंता के नेतृत्व में गठित टीम केंडीह गांव पहुंची और यहां गोपाल सिंह , प्रमोद मंडल तथा मुरारी कुमार मंडल को संबंधित आरोप में नामित किया और इन तीनों पर क्रमशः 38957,12698 एवं 11979 रुपया जुर्माना लगाया। साथ ही विभाग ने खैरा थाने में उक्त सभी नौ लोगों पर सुसंगत धाराओं के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कराई है और सम्बंधित जनों पर विधि सम्मत कार्रवाई किए जाने की बात कही है।

 इधर कनीय विद्युत अभियंता , विद्युत आपूर्ति प्रशाखा , लक्ष्मीपुर भी विद्युत ऊर्जा की चोरी रोकने के लिए सघन अभियान चलाकर दो लोगों को बिजली चोरी करते दबोचा है। मटिया गांव निवासी मकसूद आलम और मटिया मोहनपुर निवासी रमाशंकर प्रसाद नामक व्यक्ति को  बिजली चोरी के आरोप में चिंहित करते हुए इन दोनों पर क्रमशः 21496 और 30603 रुपया जुर्माना लगाया है। सम्बंधित व्यक्ति द्वय पर लक्ष्मीपुर थाने में अनुकूल धाराओं के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

  बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता ने विद्युत ऊर्जा चोरी को गम्भीर अपराध बताते हुए कहा कि इससे जहां सरकार को राजस्व का घाटा होता है वहीं उपभोक्ता भी बेवजह शारिरिक , मानसिक और आर्थिक प्रताड़ना का शिकार होते हैं।  उन्होंने बिजली चोरी रोकने के लिए मुहिम जारी रखने की बात - बताते हुए कहा कि वैध कार्य को बढ़ावा देने के लिए विभाग कटिबद्ध है।

कार्यपालक अभियंता ने जिले के नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि राज्य और देश के हित में वैध विद्युत कनेक्शन लेकर ही बिजली ऊर्जा का उपभोग करें और सम्मान के साथ जीवन जिएं। उन्होंने तकनीकी बाधा को छोड़कर विद्युत आपूर्ति 24 × 07 की तर्ज पर किए जाने का संकल्प व्यक्त किया।