Breaking News

गिद्धौर : सार्वजनिक पुस्तकालय में उत्साहपूर्वक मनाया गया स्वतंत्रता दिवस

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui), 16 अगस्त
◆ रिपोर्ट : सुशांत साईं सुन्दरम
गिद्धौर के सार्वजनिक पुस्तकालय में सोमवार को देश की आजादी का पर्व स्वतंत्रता दिवस को आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में उत्साहपूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर सार्वजनिक पुस्तकालय के अध्यक्ष कुंदन सिन्हा ने ध्वजारोहण किया और झंडे को सलामी दी।

कुंदन ने उपस्थित युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि भारत विश्व का सबसे युवा राष्ट्र है। विश्व की 65 प्रतिशत युवा आबादी हमारे देश में निवास करती है। देश के युवाओं का यह कर्तव्य बनता है कि राष्ट्र को अपनी उर्जा से प्रगति की राह पर ले जाए और भारत को आध्यात्मिक शक्ति के रूप में स्थापित करते हुए इसे विश्व गुरू बनाने में योगदान दें।
इस अवसर पर सार्वजनिक पुस्तकालय के सचिव राजवंश केशरी ने आजादी के वीर बलिदानियों के जीवन गाथा पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज देश 75वां स्वतंत्रता दिवस आजादी का अमृत महोत्सव के रूप में मना रहा है। यह आजादी हमें यूं ही नहीं मिली। इसके लिए न जाने कितने फांसी के फंदे पर झूले थे और न जाने कितनों ने गोली खाई थी, तब जाकर हमने यह आजादी पाई थी। देश ऋणी है उन क्रांतिवीरों का जिन्होंने देश को गुलामी की जंजीरों से मुक्त कराने के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया। 

कार्यक्रम में सार्वजनिक पुस्तकालय के परवेश कुमार, सुबोध पंडित, अभिषेक पांडेय, जगमोहन विश्वकर्मा, राहुल कुमार, सूरज पंडित, गुड्डू कुमार, रामप्रवेश रॉय उर्फ मैग्गी, मणि कुमार, चंदन कुमार पंडित, रवि कुमार सहित बड़ी संख्या में युवा व बच्चे मौजूद रहे।