Breaking News

खैरा : कलश शोभायात्रा के साथ पांच दिवसीय श्रीरामचरित मानस महायज्ञ शुरू



खैरा/जमुई (Khaira/Jamui), 10 जून :

◆ प्रह्लाद की रिपोर्ट

खैरा प्रखंड क्षेत्र के मांगोबन्दर स्थित श्री मारुति मंदिर परिसर में आयोजित होने वाले 5 दिवसीय श्रीरामचरित मानस यज्ञ को लेकर शुक्रवार को भव्य कलश शोभा यात्रा निकाली गई. इस दौरान 501 युवतियों व सुहागिन महिलाओं ने कलश धारण कर नगर भ्रमण किया.


कलश यात्रा गांव स्थित हनुमान मंदिर यज्ञ स्थल से शुरू होकर पदयात्रा करते हुए कर सुखनर नदी तट पर पहुंचा. जहां वैदिक मंत्रोच्चार के साथ वरुण देवता का आह्वान कर कलश में जल भरा गया. तदुपरांत कलश शोभायात्रा वापस यज्ञस्थली पर जाकर समाप्त हुआ.


इस दौरान श्रद्धालुओं के जत्थे के द्वारा ढोल-नगाड़े तथा गाजे-बाजे की धुन पर किये जा रहे जयजयकार से संपूर्ण माहौल गुंजायमान हो गया. शोभायात्रा में युवतियां व कुमारी कन्या बड़ी पैमाने पर सम्मिलित हुईं. वहीं ध्वनि विस्तारक यंत्र पर बज रहे देवी गीतों से पूरा इलाका भक्तिमय हो गया.


बताते चलें कि मांगोबंदर गांव में पांच दिवसीय श्रीरामचरित मानस महायज्ञ का आयोजन किया गया है. जिसको लेकर शुक्रवार को कलश शोभायात्रा का निकाला गई. यज्ञ में आचार्य रामानंद पांडेय को यज्ञाचार्य बनाया गया है.


यज्ञाचार्य श्री पांडेय ने बताया कि लगातार पांच दिनों तक पूजा पाठ तथा होम हवन का आयोजन किया जाएगा. वहीं प्रत्येक दिन संध्या काल में श्री धाम वृंदावन से आये हुए श्रीराम कथा वाचक पंडित नीरज कृष्ण आचार्य के द्वारा रामकथा सुनाई जाएगी. जबकि प्रत्येक दिन भजन संगीत का भी आयोजन होगा. आखिरी दिन हवन पूजन के बाद प्रसाद वितरण किया जाएगा. यज्ञ को लेकर पूरे इलाके में भक्तिमय माहौल बना हुआ है.



यज्ञ को सफल बनाने के लिए प्रधान यजमान मनोरंजन सिन्हा और उनकी पत्नी प्रियंका रंजन तथा दीपक पांडेय तथा उनकी पत्नी नीतू देवी के अलावे यज्ञ समिति के अध्यक्ष अनिल सिन्हा, संजीत पांडेय, मनोज सिंह, विनोद साव, रामानंद यादव, दिलीप पांडेय सहित अन्य लोग बढ़चढ़ कर अपना योगदान दे रहे हैं.



◆भीषण गर्मी में सड़क पर पानी डाल रहे थे लोग

मांगोबन्दर गांव में शुक्रवार से शुरू हुए श्री रामचरित मानस यज्ञ को लेकर भीषण गर्मी के बीच कलश शोभायात्रा निकाली गई. इस दौरान कलश यात्रियों को किसी तरह की परेशानी ना हो इसे लेकर ग्रामीणों के द्वारा आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा. लोग अपने घर के बाहर ठंडा पानी सड़कों पर डाल रहे थे, ताकि नंगे पांव नगर भ्रमण कर रही कलश यात्रियों को गर्मी में अधिक परेशानी ना हो. इसे लेकर कुछ लोगों ने मोटर-ट्रैक्टर तो कुछ लोग बाल्टी और घड़ा से ही सड़कों पर पानी डाल रहे थे.


वही बीच बाजार में कुछ लोगों के द्वारा शरबत, नींबू पानी और ग्लूकोज की व्यवस्था की गई थी. कुल मिलाकर गांव में हो रहे महायज्ञ को लेकर स्थानीय ग्रामीणों में भी उत्साह और भक्ति का माहौ

ल देखने को मिल रहा है.