गिद्धौर : गंगरा निवासी किराना व्यवसायी दुकान बंद कर लौट रहे थे घर, अपराधियों ने मारी गोली - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Tuesday, 5 April 2022

गिद्धौर : गंगरा निवासी किराना व्यवसायी दुकान बंद कर लौट रहे थे घर, अपराधियों ने मारी गोली

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui), 5 अप्रैल :
विक्की कुमार की रिपोर्ट :
बीते सोमवार की देर रात से ही गिद्धौर, गंगरा और आसपास के इलाकों में दहशत और सनसनी का माहौल बना हुआ है। कारण गिद्धौर जैसे शांतिप्रिय इलाके में बंदूकधारी अपराधियों द्वारा किराना व्यवसायी को गोली मार दी गई। यह एक बड़ी खबर है।

गिद्धौर थाना क्षेत्र के एनएच 333 किनारे गांधी आश्रम बनझुलिया में बीते सोमवार की रात अपराधियों ने किराना व्यवसायी को गोली मार दी। गोली जांघ में लगी है। स्थानीय ग्रामीणों और परिजनों द्वारा आनन-फानन में दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के लिए लाया गया। जहां स्थिति की गंभीरता को देखते हुए सदर अस्पताल जमुई भेज दिया गया।
जहां स्थिति की गंभीरता देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया। फिलहाल गोली लगे व्यवसायी का इलाज बेगूसराय के एक निजी क्लीनिक में चल रहा है। घायल की पहचान गिद्धौर प्रखंड अंतर्गत गंगरा गांव के 55 वर्षीय अशोक सिंह, पिता - सहदेव सिंह के रूप में की गई है।

घटना की सूचना मिलते ही जमुई एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार एवं गिद्धौर थानाध्यक्ष अमित कुमार ने टीम के साथ सदर अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी ली। इसके साथ ही गिद्धौर पुलिस की टीम ने घटनास्थल का भी जायजा लिया। घटना सीसीटीवी में भी कैद हुई है। 
घटना के बारे में जमुई एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार ने बताया -
अशोक सिंह जो किराना दुकान बंद कर घर जा रहे थे। तभी तीन नकाबपोश अपराधियों ने गोली मार दिया। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस हर बिंदु पर छानबीन कर रही है और अपराधियों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है।
वहीं इस घटना के बारे में अशोक सिंह के पुत्र विवेक सिंह ने बताया -
हम सखुवा पत्तल लेकर देवघर से आए थे, जिसे गोदाम में रखने के लिए गए थे। इसी दौरान पहले से घात लगा कर बैठे नकाबपोश अपराधियों ने मेरे पिताजी को गोली मार दिया। हम तीन भाई हैं। सभी व्यवसाय करते हैं। हमारा एक खाद का दुकान, दो किराना दुकान और एक कोयला डिपो है।

स्थानीय ग्रामीणों की माने तो अशोक सिंह की किसी से कोई दुश्मनी नही है। व्यवसायी 3 पुत्र हैं, दो व्यवसाय करते हैं और एक जिले के जेडीयू के सक्रिय कार्यकर्ता हैं। अशोक सिंह की पत्नी आंगनवाड़ी सेविका है।

Post Top Ad