Breaking News

जमुई : डीईओ के साथ वार्ता विफल, 8 जनवरी को सीएम का घेराव करेंगे हजारों शिक्षक

 


जमुई (Jamui), 25 दिसंबर : बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह के नेतृत्व में संघ के पदाधिकारियों के साथ जमुई के डीईओ व डीपीओ से बकाया वेतन की मांग को लेकर वार्ता विफल हो गई है। अब 8 जनवरी को जमुई में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का घेराव हजारों शिक्षक करेंगे। 


निम्नांकित मांगो को लेकर होगा घेराव 


1.जमुई शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय के सत्र-2016-18 के प्रशिक्षु शिक्षकों सहित अन्य अप्रशिक्षित शिक्षकों का एक साल से बकाया वेतन भुगतान किया जाय।


2.जमुई जिले में डीएलएड, ओडीएल (A,B,C,D) एवं एन.आई.ओ.एस द्वारा नव प्रशिक्षित शिक्षकों का तीन साल से बकाया अंतर वेतन का भुगतान किया जाय।


3.अपर मुख्य सचिव, शिक्षा विभाग के आदेशानुसार जमुई जिले के शेष छह प्रखंडों के शिक्षकों का भी DPE उतीर्णता की तिथि से बकाया अंतर वेतन राशि का भुगतान किया जाय।


4. निदेशक, प्रा.शिक्षा, बिहार द्वारा निर्गत ज्ञापांक-547,दिनांक-22.06.2020 एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, स्थापना जमुई द्वारा निर्गत ज्ञापांक-835,दिनांक-24.09.2020 के आलोक में जमुई जिला के शिक्षकों को सेवाकालीन शिक्षक-प्रशिक्षण-चर्या पूर्ण करने की तिथि से प्रशिक्षित वेतनमान का वैचारिक लाभ प्रदान करने एवं अप्रैल 2019 से अंतर-वेतन की राशि भुगतान की जाय।


5.जमुई जिले के विभिन्न प्रखंडों यथा चकाई, झाझा, जमुई,गिद्धौर, लक्ष्मीपुर आदि प्रखंडों में दर्जनों शिक्षिकाओं द्वारा मातृत्व अवकाश उपयोग के उपरांत तथा नियोजन इकाई के स्वीकृति के बाद भी मातृत्व अवकाश अवधि का लंबित वेतन का भुगतान अविलंब किया जाय।


6.जमुई जिले में शेष बचे DPE उतीर्ण शिक्षकों के सेवा पुस्तिका का संधारण अविलंब किया जाय।


7.जमुई जिले के कई प्रखंडों में दो वर्ष की सेवा पूर्ण कर चुके टेट परीक्षा उतीर्ण प्रशिक्षित शिक्षकों को ग्रेड पे के निर्धारण के उपरांत बकाया अंतर वेतन राशि का भुगतान किया जाय।


8.जमुई जिले के विभिन्न प्रखंडों में शिक्षक असमय काल-कवलित हो चुके हैं, उनके परिजनों को अनुग्रह अनुदान की चार लाख की राशि पुराने नियमावली अथवा नए नियमावली के तहत देय लाभ का भुगतान करवाया जाय।


9.जमुई जिले के विभिन्न प्रखंडों में वर्ष 2016 में नियोजित उर्दू शिक्षकों का लंबित बकाया वेतन का भुगतान किया जाय।


10.जमुई जिले के विभिन्न प्रखंडों में कतिपय कारणों से नियोजित शिक्षकों का पदाधिकारी द्वारा वेतन स्थगित करने के उपरांत पुनः वेतन भुगतान हेतु आदेश के बाबजूद भी उक्त अवधि का भुगतान नही किया गया, वैसे शिक्षकों का अविलंब भुगतान किया जाय।


11.जमुई जिले के चकाई एवं सोनो प्रखंडों के कई शिक्षकों का माह अक्टूबर एवं नवंबर 2018 का बकाया वेतन का भुगतान किया जाय।


12.वर्षो पूर्व जमुई जिले के कई प्रखंडों में दक्षता पास शिक्षकों का लंबित एरियर का भुगतान किया जाय।


13.जमुई जिले के चकाई एवं सोनो प्रखंड में कई शिक्षकों का सांतवा अंतर वेतन त्रुटिपूर्ण भेजा गया, संशोधित कर अविलंब शेष राशि का भुगतान किया जाय।


14.जमुई जिला के झाझा प्रखंड स्थित टेलवा पंचायत में कार्यरत 10 शिक्षकों के मई 2016 से दिसंबर 2016 तक के बकाया वेतन का भुगतान अविलंब किया जाय।


15.ईपीएफ कटौती के बाद जमुई जिले के विभिन्न प्रखंडों में शिक्षकों के असमय मृत्युपरांत उनके परिजनों को ईपीएफ द्वारा देय आर्थिक लाभ दिलवाया जाय।


16.जमुई जिले में वैसे कार्यरत अप्रशिक्षित शिक्षक जो डीएलएड(ओडीएल) परीक्षा में अनुतीर्ण घोषित किए गए हैं, उन्हें मार्गदर्शिका में निहित प्रावधान के अनुसार परीक्षा पास करने हेतु अतिरिक्त अवसर प्रदान करते हुए शीघ्र पूरक परीक्षा ली जाय ।

वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष के साथ प्रदेश कोषाध्यक्ष सह जमुई जिलाध्यक्ष रवि कुमार यादव,जिला महासचिव जयप्रकाश पासवान, जिला मीडिया प्रभारी पंकज प्रकाश बच्चन,जिला उपाध्यक्ष सुनील कुमार, जिला सचिव संजीत कुमार, जिला कोषाध्यक्ष राजीव वर्णवाल, जिला प्रतिनिधि शमीम अख्तर,लक्ष्मीपुर अध्यक्ष लक्ष्मी यादव, सोनो अध्यक्ष लखन मंडल,बरहट अध्यक्ष महेश शर्मा, जमुई अध्यक्ष उत्तम सिंह,चकाई अध्यक्ष प्रमोद कुमार,झाझा सचिव रौशन कुमार,सिकंदरा विवेक सिंह,सोनो सचिव धर्मेंद्र सिंह,खैरा उपाध्यक्ष नंद किशोर यादव,सुशांत कुमार,कुंदन कुमार,नीरज कुमार,छोटू कुमार, साबिर अंसारी,नंद कुमार, रमन किशोर  सिंह,संजय यादव, रिषु मेहता सहित दर्जनों शिक्षक उपस्थित थे।