Breaking News

शिक्षा पर बात करने में जदयू-भाजपा नेताओं के होठ कांपने लगते हैं : डॉ शशिकांत

पटना (28 नवम्बर 2021) : जदयू एवं भाजपा के किसी भी नेता में शिक्षा पर बात करने की हिम्मत नहीं है। वे हमेशा झूठे सुशासन एवं नकली विकास की बातों में आम जनता को उलझाते रहते हैं। उक्त बातें आम आदमी पार्टी, बिहार के मुख्य प्रवक्ता डॉ शशिकांत ने कही।

डॉ शशिकांत ने कहा कि बिहार में एनडीए शासन के 15 साल हो गए, फिर भी स्कूलों की दशा-दिशा नहीं बदली। सक्षम लोग सालाना लाखों रूपए फी देकर अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढ़ा रहे हैं। गरीबों के बच्चे मजबूरी में सरकारी स्कूलों में निम्न दर्जे की शिक्षा पाने को विवश हैं। 

डॉ शशिकांत ने कहा कि पिछले 15 सालों में बिहार के मुख्यमंत्री राज्य के 15  स्कूल की दशा देखने भी नहीं गए। इससे ही सरकार की शिक्षा के प्रति रूचि को समझा जा सकता है। स्कूल से लेकर विश्वविद्यालय तक भ्रष्टाचार का अखाड़ा बने हुए हैं।

डॉ. शशिकांत ने चुनौती देते हुए कहा कि जदयू या भाजपा का कोई भी नेता-प्रवक्ता आएं और यह बता जाएं कि पिछले 15 सालों में बिहार में शिक्षा व्यवस्था में क्या-क्या सुधार हुए ? शिक्षा की बात करते ही जदयू एवं भाजपा नेताओं के होठ कांपने लगते हैं। वे सिर्फ जातिवाद और धर्मवाद की बातें सीना तानकर चिल्ला-चिल्लाकर कहते हैं।

डॉ शशिकांत ने कहा कि बिहार में एनडीए की यह अंतिम सरकार है। आम आदमी पार्टी के नेता-कार्यकर्ता गांव-गांव जाकर एनडीए की वर्तमान राज्य सरकार के असली चेहरे से लोगों को रूबरू कराएंगे और जदयू-भाजपा का भांडा फोड़ करेंगे।