Breaking News

गिद्धौर : रतनपुर स्थित चित्रगुप्त मंदिर में हुई भगवान चित्रगुप्त की पूजा-अर्चना

 


Gidhaur/ गिद्धौर (न्यूज़ डेस्क) :- कलम के आराध्य देव भगवान चित्रगु्प्त की पूजा अर्चना का सिलसिला शनिवार को दिनभर जारी रहा । इसी क्रम में  गिद्धौर प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत रतनपुर गांव स्थित कायस्थ टोला में भगवान चित्रगुप्त की पूजा अर्चना कर गांव परिवार के खुशहाली की कामना की गई। इससे पूर्व गांव  के सभी कायस्थ परिवार ने भगवान चित्रगुप्त के सम्मुख कलम और हिसाब किताब का लेखा जोखा प्रस्तुत किए । 

अनुयायी बृजेंद्र कुमार सिन्हा ने बताया कि  भगवान चित्रगु्प्त की पूजा कायस्थ परिवार के लोग पूर्व से ही धूमधाम के साथ मनाते आ रहे हैं। 

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, कायस्थ जाति को उत्पन्न करने वाले भगवान चित्रगुप्त का जन्म यम द्वितीया के दिन हुआ था। इसलिए कायस्थ समाज के लोग कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को भगवान चित्रगुप्त की पूजा करते हैं। लोगो ने बताया हिदू धर्म में चित्रगुप्तजी की पूजा का विशेष महत्व है। चित्रगुप्त कायस्थों के आराध्य देव हैं। इसीलिए भगवान चित्रगुप्त के सम्मुख कायस्थ भाइयों को पूरे साल भर की आय व्यय का लेखा-जोखा प्रस्तुत करना चाहिए। उन्होंने बताया कि, भगवान चित्रगुप्त की पूजा करने से साहस ,शौर्य, बल और ज्ञान की प्राप्ति होती है। इस मौके पर प्रोफेसर अनिल कुमार सिन्हा, बृजेंद्र कुमार सिन्हा उर्फ पप्पू लाल, मनोज कुमार वर्मा, अश्वनी कुमार सिन्हा, कवि बिनय अश्म सहित दर्जनों कायस्थ वर्ग के लोग मौजूद थे ।


Edited by : Abhishek Kr. Jha

#Gidhaur, #Event, #GidhaurDotCom