गिद्धौर : दुर्गा मंदिर में कब और कैसे होगा बलिदान, जान लीजिए इस खबर में - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, 13 October 2021

गिद्धौर : दुर्गा मंदिर में कब और कैसे होगा बलिदान, जान लीजिए इस खबर में

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui) : शारदीय नवरात्र को लेकर गिद्धौर का माहौल देवीमय हो गया है। चहुंओर दुर्गा मैया के जयकारे गूंज रहे हैं। उलाई व नागी-नकटी नदी के तट पर अवस्थित ऐतिहासिक दुर्गा मंदिर में अनगिनत श्रद्धालुगण माता की पूजा-आराधना के लिए पहुंच रहे हैं।

12 अक्टूबर की मध्य रात्रि गिद्धौर के प्राचीन दुर्गा मंदिर में निशा पूजा के साथ तांत्रिक विधान से प्राण प्रतिष्ठा की गई। 13 अक्टूबर को माता के दर्शन के लिए महाष्टमी पर अपार भीड़ उमड़ी।

अब 14 अक्टूबर को महानवमी पर बलिदान दिया जाएगा। इसे लेकर शारदीय दुर्गा पूजा सह लक्ष्मी पूजा समिति के उपाध्यक्ष अजीत कुमार ने जानकारी दी कि 14 अक्टूबर गुरुवार की सुबह 7 बजे से पंचमन्दिर के निकट के सामुदायिक भवन में बलिदान का रसीद काटा जाएगा। इसका रजिस्ट्रेशन चार्ज 100 रुपये प्रत्येक पाठा बलि है। जबकि 8 बजे के बाद विधिवत बलिदान शुरू किया जाएगा।

इसके अलावा समिति के उपाध्यक्ष अजीत कुमार ने बताया कि मुंडन के लिए रजिस्ट्रेशन चार्ज भी 100 रुपये है। इसका रसीद शारदीय दुर्गा सह लक्ष्मी पूजा समिति के प्रधान कार्यालय से लिया जा सकेगा। श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की असुविधा न हो इसके लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। लेकिन समस्या होने पर समिति के कार्यकारिणी सदस्यों से संपर्क किया जा सकता है।

Post Top Ad