Breaking News

बिहार के लाखों शिक्षकों को दशहरा से पहले हो वेतन भुगतान, BPNPSS के प्रदेश अध्यक्ष ने रखी मांग

[ News Desk | Abhishek Kr. Jha] : -  देश का भविष्य गढ़ने वाले शिक्षकों के लिए त्योहारी सीजन बेउमंग की दहलीज पर पहुंच गई है। यहां न सिर्फ दो तीन महीने से वेतन की आस में शिक्षक वैठे है, बल्कि अंतर वेतन भुगतान की मांग भी विभागीय स्तर पर की जा रही है। 

पत्र व प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह     ◆  gidhaur.com

इस संदर्भ में बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ (BPNPSS) के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह (Anand Kaushal Singh) ने मुख्यमंत्री (CMO Bihar) को पत्र प्रेषित कर पंचायतीराज संस्थानों एवं नगर निकाय संस्थानों अंतर्गत कार्यरत सवा तीन लाख शिक्षकों के दो-तीन माह से बकाया वेतन का भुगतान दुर्गा पूजा (Durga Puja) से पहले करवाने की मांग की गई है । प्रदेश अध्यक्ष ने लाखों शिक्षकों के वर्षों से लंबित अंतर वेतन का भी भुगतान करवाने का भी आग्रह किया है । इस के साथ ही संघ के माँग-पत्र पर संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री सचिवालय (CM Secretariat) के द्वारा शिक्षा विभाग (Education Department) के प्रधान सचिव को नियमानुसार यथाशीघ्र आवश्यक करवाई करने हेतु पत्र भेजा गया है । 

बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह ने बताया कि समग्र शिक्षा अभियान (SSA) मद से वेतन पाने वाले प्रदेश भर के लाखों शिक्षकों को आवंटन के आभाव में दो-तीन माह से वेतन नहीं मिल सका है । दूसरी ओर प्रशिक्षण सत्र 2013-15, 2014-16, 2015-17, 2016-18, 2017-19 में दो वर्षीय परीक्षा उतीर्ण कर प्रशिक्षित शिक्षक का दर्जा प्राप्त करने के ढाई वर्ष बाद भी उनके लंबित अंतर वेतन का भुगतान नहीं किया जा रहा है । उन्होनें कहा कि माननीय उच्च न्यायालय पटना (High Court Patna) के आदेश के बाबजूद भी शिक्षा विभाग द्वारा हजारों अप्रशिक्षित शिक्षकों को बकाया वेतन और DPE दो वर्षीय परीक्षा उतीर्ण शिक्षकों को अंतर वेतन नहीं दिया जा रहा है । तो वहीं शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव के आदेश के बाबजूद भी बेतिया, भागलपुर (Bhagalpur), बांका (Banka) और बेगूसराय (Begusarai ) जिले के शिक्षकों को हड़ताल अवधि के वेतन का भुगतान नहीं किया गया है ।

गौरतलब है कि, दशहरा (Dusshehra) का पर्व 07 अक्टूबर से प्रारंभ हो रहा है और अबतक शिक्षकों की झोली वेतन से आच्छादित नहीं हो सकी है। परिणामस्वरूप बकाया वेतन भुगतान और अंतर वेतन के मामले शिक्षा विभाग के द्वारा की जा लापरवाही से शिक्षकों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है । 

#Bihar, #Education, #GidhaurDotCom