गिद्धौर : पंचायत चुनाव में कोरोना गाइडलाइन्स की उड़ी धज्जियां, निर्वाचन आयोग के आदेश को मतदानकर्मियों ने दिखाया ठेंगा - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Saturday, 9 October 2021

गिद्धौर : पंचायत चुनाव में कोरोना गाइडलाइन्स की उड़ी धज्जियां, निर्वाचन आयोग के आदेश को मतदानकर्मियों ने दिखाया ठेंगा

 


Gidhaur/गिद्धौर (अभिषेक) :- पंचायत चुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग शुक्रवार को समाप्त हो चुकी है। निर्वाचन आयोग ने कोरोना से बचाव के लिए आदेश जारी किए थे, पर सरकारी आस्तीन में पल रहे मतदानकर्मी ही निर्वाचन आयोग के आदेश पर पलीता लगाते दिख रहे हैं। दरअसल, निर्वाचन आयोग ने मतदान के दौरान कोविड गाइडलाइन का पालन करने की बात कही थी। इसके तहत सभी का मास्क लगाकर बूथ पर आना अनिवार्य बताया गया था , पर न तो मतदाताओं, न पुलिसकर्मी और और न ही मतदानकर्मियों ने इसका पालन नहीं किया। किसी पर कोई कार्रवाई भी नहीं हुई। लिहाजा पूरे बूथ पर बिना मास्क के ही लोग दिखे। संक्रमण के मद्देनजर यह लापरवाही आमजन पर भारी पड़ सकती है। यूं तो वोटिंग को लेकर पूरी सुरक्षा व्यवस्था का दावा है, लेकिन सभी जिलों से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने को लेकर कोई विशेष चौकसी नज़र नहीं आयी है।


बता दे, जिले में हो चुके पहले और दूसरे चरण की तरह तीसरे चरण में चुनाव आयोग के आदेश का पालन कराने को लेकर बूथों पर कोई सख्ती नहीं दिखी। भीड़ में बिना मास्क और सोशल डिस्टेंस के नियम का पालन किए बगैर मतदाता लंबी कतार में लग गए। पंचायत चुनाव में बूथों पर मतदाताओं की भीड़ कोरोना का खतरा बताने के लिए काफी है । बूथ पर स्थानीय प्रशासन द्वारा न तो मास्क की व्यवस्था थी और न ही सैनिटाइजर की कोई व्यवस्था की गई थी। 


खैर जो भी हो, पंचायत चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग ने कोरोना गाइडलाइन के सख्ती से पालन कराने के फरमान तो जारी कर दिए, लेकिन यह फ़रमान धरातल पर न आकर सरकारी कागजों में सिमटता नज़र आया, जिसपर स्थानीय प्रशासन बेसुध नज़र आये। 


#Gidhaur, #Election, #GidhaurDotCom



Post Top Ad