Breaking News

जमुई : नवपदस्थापित डी ई ओ को शिक्षक संघ ने सौंपा 16 सूत्री माँग-पत्र

 


Jamui / जमुई | बिहार पंचायत - नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ का एक शिष्टमंडल ने नवपदस्थापित जिला शिक्षा पदाधिकारी जमुई से शिष्टाचार मुलाकात संघ के जिला महसचिव जयप्रकाश पासवान के नेतृत्व में किया । इस दौरान जिले के हजारों शिक्षकों के वर्षों से लंबित समस्याओं से संबंधित 16 सूत्री मांगों के संबंधित ज्ञापन सौंपा गया । 

बुधवार को जानकारी देते हुए संघ के जिला महासचिव जयप्रकाश पासवान ने बताया कि जिला शिक्षा पदाधिकारी से मुलाक़ात के दौरान 16 सूत्री माँग-पत्र सौंप कर एक निश्चित समयावधि में जिले के हजारों शिक्षकों के सभी समस्याओं का निराकरण करने की मांग की गई है । उन्होंने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय पटना के शख्त आदेश के बाद भी जमुई जिले के छह प्रखंडों में डीपीई उतीर्ण शिक्षकों को दो साल बाद भी एरियर का भुगतान नहीं किया जाना कोर्ट का अवमानना है । साथ ही बार-बार माँग करने बाबजूद जिले के हजारों नवप्रशिक्षित शिक्षक का बकाया अन्तर वेतन का भुगतान नहीं किए जाने से शिक्षकों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है । जिले के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले लाखों छात्र-छात्राओं को सत्र प्रारंभ होने के पाँच माह बाद भी विभाग किताब नहीं उपलब्ध करवा सकी है । जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है । शिष्टमंडल में जिला उपाध्यक्ष मुरारी शर्मा, मीडिया प्रभारी पंकज प्रकाश बच्चन, कोषाध्यक्ष राजीव वर्णवाल , सचिव संजीत कुमार, लक्ष्मीपुर प्रखंड अध्यक्ष लक्ष्मी यादव,कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र कुमार ,राजेश कुमार, सक्रिय सदस्य सुधीर ठाकुर ,मो. असगर, मो.मतीन इत्यादि उपस्थित थे ।



 16 सूत्री माँग निम्नांकित इस प्रकार है :- 


1. जिले के विभिन्न प्रखंडों में DELED ,ODL (A,B,C,D)एवं NIOS द्वारा नव प्रशिक्षित शिक्षकों का बकाया अंतर वेतन एरियर का भुगतान किया जाय ।  


2. जिले के शेष छह प्रखंडों के शिक्षकों का डीपीई उतीर्णता की तिथि से बकाया अंतर वेतन राशि का भुगतान किया जाय ।


 3. जिले के विभिन्न प्रखंडों यथा चकाई , झाझा,जमुई,गिद्धौर,लक्ष्मीपुर आदि प्रखंडों में दर्जनों शिक्षिकाओं द्वारा मातृत्व अवकाश उपभोग के उपरांत तथा नियोजन इकाई के स्वीकृति के बाद भी मातृत्व अवकाश अवधि का लंबित वेतन का भुगतान किया जाय । 


4.जिले में शेष बचे डीपीई सेवा पुस्तिका का संधारण अविलम्ब किया जाय । 


5.जिले के कई प्रखंडों में दो वर्ष की सेवा पूर्ण कर चुके टेट परीक्षा उतीर्ण प्रशिक्षित शिक्षकों को ग्रैड पे के निर्धारण के उपरांत बकाया अंतर वेतन एरियर राशि का भुगतान किया जाय । 


6.माननीय उच्च न्यायालय के आदेश के आलोक में अप्रशिक्षित शिक्षकों का वेतन भुगतान किया जाय ।


7.जिले के विभिन्न प्रखंडों में शिक्षक असमय काल - कल्पित ही चुके हैं,उनके परिजनों को अनुग्रह अनुदान की चार लाख की राशि पुराने अथवा नये नियमावली के तहत भुगतान किया जाय । 


8.जिले के विभिन्न प्रखंडों में वर्ष 2016 में नियोजित उर्दू शिक्षकों का लंबित बकाया भुगतान किया जाय । 


9.जिले के विभिन्न प्रखंडों में कतिपय कारणों से नियोजित शिक्षकों का पदाधिकारी द्वारा वेतन स्थगित करने के उपरांत पुनः वेतन चालू हेतु आदेश के बावजूद भी उक्त अवधि का भुगतान नहीं किया गया,वैसे शिक्षकों का अविलम्ब भुगतान किया जाय ।


10.चकाई एवं सोनो प्रखंड के कई शिक्षकों का अक्टूबर एवं नवम्बर 2018 के बकाया वेतन का भुगतान किया जाय । 

11.वर्षो पूर्व जिले के कई प्रखंडों में दक्षता पास शिक्षकों का लंबित एरियर का भुगतान किया जाय । 


12.जिले के चकाई एवं सोनो प्रखंडों में कई शिक्षकों का सातवां अंतर वेतन त्रुटिपूर्ण भेजा गया, संशोधित कर अविलम्ब शेष राशि का भुगतान किया जाय । 


13.सत्र 2021 - 22 में सभी छात्र - छात्राओं के पाठ्य - पुस्तक अतिशीघ्र मुहैया कराया जाय । 


14.EPF कटौती के बाद जिले के विभिन्न प्रखंडों में शिक्षकों के असमय मृत्युपरांत , उनकेपरिजनों को EPF द्वारा देय आर्थिक लाभ दिलवाया जाय । 


15.मृत शिक्षकों के परिजनों को अनुकंपा के आधार पर योग्यतानुसार विद्यालय सहायक अथवा परिचारी के पद पर बहाल किया जाय । 


16. निदेशक ( प्रा. शि. )बिहार के पत्रांक - 798 दिनांक - 16.09.2020 के आदेश के आलोक में UTI शाखा को पत्राचार कर निर्देशित किया जाय।


Edited by : Abhishek Kr. Jha

#Jamui, #Education, #GidhaurDotCom