Breaking News

गिद्धौर के राजमिस्त्रियों को भूकम्परोधी भवन बनाने का प्रशिक्षण चौथे दिन भी जारी

 


【न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:- बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा भूकम्परोधी भवनों के निर्माण तथा पुराने भवनों के सुदृढीकरण के लिए राज्य में राजमिस्त्रियों को प्रशिक्षित करने का कार्य जमुई जिले के विभिन्न प्रखण्डों में शुरू कर दिया गया है। गिद्धौर प्रखण्ड मुख्यालय में भी यह कार्य 06 अगस्त से ही जारी है । वहीं, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधीन प्रशिक्षण सम्बन्धी प्रबंधन पर मोनिटरिंग अंचलाधिकारी द्वारा किया जा रहा है। 

प्रशिक्षण के चौथे दिन, सोमवार को ट्रेनिंग इंचार्ज रवि सिंह के देखरेख में फाउंडेशन निर्माण, नीव के निर्माण सामग्रियों के उपयोग, भंडारण एवं जाँच की सरल विधियों आदि की जानकारी देते हुए इस सम्बंध में प्रशिक्षण दिया। साथ ही व्यवहारिक रूप से इसका भौतिक प्रयोग भी राजमिस्त्रियों से कराया। उन्होंने बताया कि अभियंता प्रशिक्षकों द्वारा हर एक पहलू की जानकारी राजमिस्त्रियों को दी जा रही है। उन्होंने बताया कि जमुई सहित बिहार के 24 जिले जोन IV के अन्तर्गत आते हैं , इसको ध्यान में रखते हुए भूकम्परोधी निर्माण के बहु - तकनीक के उपयोग को समावेशित करते हुए एक मॉडल भवन का निर्माण भी प्रखण्ड कार्यालय परिसर में कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस प्रशिक्षण में 30 अनुभवी राजमिस्त्री भाग ले रहे हैं , जिन्हें प्रशिक्षणोपरांत 700 / - रूपये प्रतिदिन के दर से कुल 4900 / - रूपये का भुगतान चेक द्वारा करते हुए उन्हें प्रमाण पत्र भी प्रदान किये जायेगे। उन्होंने बताया कि इस प्रशिक्षण से राजमिस्त्रियों के हुनर तथा कौशल से वृद्धि होगी जिससे समाज में भूकम्प सुरक्षित एवं किफायती भवन का निर्माण होगा तथा आम लोगों तक तकनीकी जानकारी पहुंचेगी, जिससे समाज में आपदा सुरक्षित निर्माण की संस्कृति तथा जागरूकता विकसित होगी ।


#Gidhaur, #Administration, #GidhaurDotCom