गिद्धौर : राशन कार्ड के लिए भटक रहे 70 वर्षीय महिला के रहनुमा बने प्रखड प्रमुख - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Thursday, 5 August 2021

गिद्धौर : राशन कार्ड के लिए भटक रहे 70 वर्षीय महिला के रहनुमा बने प्रखड प्रमुख

 


【न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :- राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत निर्धारित दरों पर नियमित राशन के साथ-साथ जिला प्रशासन द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत खाद्यान्न वितरण के फरमान जारी किए गए हैं । वहीं, गिद्धौर प्रखंड क्षेत्र के नयागांव निवासी भगल ठाकुर की पत्नी झुनिया देवी (70वर्ष) राशन कार्ड बनवाने के लिए विगत महीनों से सरकारी बाबुओं के दफ्तर के चक्कर काट रही है।

अपना दुखड़ा सुनाते हुए महिला ने बताया कि, राशन कार्ड बनवाने में लिए वे पिछले कई महीनों से मुख्यालय के चक्कर काट कर रही हैं, कभी आरटीपीएस कॉउंटर बन्द तो कभी सरकारी बाबू गायब रहते हैं। उन्होंने बताया कि राशन कार्ड के आभाव में लॉकडाउन के दौरान उनके समक्ष भुखमरी की स्थिति बनी रही। विधवा महिला ने बताया कि उनके साथ उनके परिवार में 6 और सदस्य हैं। ऐसे में किसी तरह मेहनत मजदूरी करके अपना गुजारा किया पर अब स्थिति बेहद संवेदनशील हो चली है। 

वहीं, बुधवार को मुख्यायल में सरकारी बाबू के आस ताकते महिला पर प्रखण्ड प्रमुख शम्भू केशरी की नजर पड़ी और उनकी सहायता के लिए असहाय महिला के रहनुमा बन गए। उन्होंने महिला के हर सम्भव मदद का आश्वासन देते हुए निर्धारित समय अवधि में राशन कार्ड बनवाने की बात कही। उन्होंने कहा कि जब तक महिला का राशन कार्ड निर्गत नहीं होता तब तक तत्क्षण सहयोग के लिए सम्बन्धित पंचायत प्रतिनिधियों से सम्पर्क स्थापित किया जाएगा। 

गौरतलब है कि, गिद्धौर प्रखण्ड क्षेत्र के दर्जनों लाभुक रोजाना अपना राशन कार्ड बनवाने , संसोधन करवाने एवं उद्यतन कार्ड की प्राप्ति करने पहुंचते हैं पर लेट लतीफी और सुस्त कार्यशैली से सैकड़ों राशन कार्ड निर्गत का कार्य अब तक लंबित पड़ा है।



Post Top Ad