Breaking News

गोलीबारी कांड : सोनो थानाध्यक्ष पर प्रखंड प्रमुख ने लगाए गंभीर आरोप

सोनो :- सोमवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर प्रखंड प्रमुख शीला देवी ने वर्तमान थानाध्यक्ष पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि उनके देवर संतोष सिंह को टारगेट करने के लिए नेता विशेष के द्वारा थाना प्रभारी को यहां लाया गया। सोनो आने के बाद से ही थाना प्रभारी बराबर शहर फरका में जियाउल मियां के घर आते रहते थे।उल्फत मियां जो जियाउल का पिता है उसके परिवार को थाना प्रभारी ने विश्वास में लेकर इस घटना को अंजाम दिया। प्रमुख ने बताया कि घटना के दो दिन पूर्व थाना प्रभारी जियाउल के घर घंटों बैठे रहे। संतोष सिंह की आवाजाही पर नजर रखने के लिए मड़रौ से सटे शहर फरका गांव को चुना गया। इतना ही नहीं जिस व्यक्ति को मोहरा बनाया गया और वह थाना प्रभारी का विश्वासी बन सके इसलिए थाना प्रभारी के समुदाय के युवक को ही यह काम सौंपा गया। उन्होंने बताएगा अकारण थाना प्रभारी के शहर फरका आने जाने व उनकी हरकत से देवर संतोष सिंह को आभास हो चुका था कि उनके विरुद्ध साजिश रची जा रही है। इसी कारण से संतोष सिंह ने एक दिन जियाउल के पिता उल्फत मियां को मोबाइल पर डांट फटकार भी किया था। उन्होंने कहा कि इस घटना को अंजाम देने में थाना प्रभारी के साथ ऊपर के एक नेता का हाथ है। वर्तमान थाना प्रभारी के रहते इस घटना की निष्पक्ष जांच नहीं हो सकती है। 

दरअसल, बीते शुक्रवार को शहर फरका में इलाज कराने गए देवर संतोष सिंह व उसके साथी राजेश सिंह पर साजिश के तहत जानलेवा हमला किया गया। गोली लगने से आज दोनों जीवन और मौत से जूझ रहे हैं। इस साजिश में वर्तमान थाना प्रभारी अब्दुल हलीम व एक खास नेता का हाथ बताया जा रहा है। 

इधर, उन्होंने वरीय अधिकारियों से वर्तमान थाना प्रभारी को तत्काल हटाने और घटना की जांच किसी ईमानदार वरीय पुलिस पदाधिकारी से कराने की मांग की।

इधर, मामले को लेकर थानां प्रभारी अब्दुल हलीम ने अपने ऊपर लगाए गए आरोप को बेबुनियाद बताया है। कहा कि पुलिस प्रशासन पर दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है।