Header Ad

header ads

गिद्धौर : महाराज चंद्रचूड़ विद्यामंदिर के गणित शिक्षक विनोद कुमार का कोरोना से निधन

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui) : इंटर स्तरीय महाराज चंद्रचूड़ विद्यामंदिर के विज्ञान संकाय के गणित शिक्षक विनोद कुमार का गुरुवार को निधन हो गया। वे कोरोना संक्रमित थे। gidhaur.com को मिली जानकारी के अनुसार कोरोना संक्रमण के चपेट में आने के बाद वे होम आइसोलेशन में थे। उनकी सेहत में आशातीत सुधार भी हो रहा था लेकिन अचानक से उनकी तबियत अधिक खराब होने के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए भागलपुर ले जाया गया। जहां वे दस दिनों से अधिक समय से ऑक्सिजन सपोर्ट पर इलाजरत थे।
इसके बाद स्थिति बिगड़ने पर उन्हें दो दिनों से आईसीयू में रखा गया था। इसी दौरान गुरुवार को दिन के 11:45 बजे उनका निधन हो गया।

बता दें कि विनोद कुमार वर्ष 2010 से गिद्धौर के महाराज चंद्रचूड़ विद्यामंदिर में +2 के शिक्षक के रूप में सेवा दे रहे थे। उनके निधन की सूचना पर विद्यालय कर्मियों सहित विद्यार्थियों में शोक की लहर है। विद्यालय शिक्षिका आर्या सिंह ने श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए कहा कि विद्यालय शिक्षक विनोद जी का निधन बेहद दुखद है। विद्यालय में उनका हमेशा सहयोग मिलता रहा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें और उनके परिवार को इस दुख की घड़ी में हौसला दें।
विद्यालय लिपिक गोपाल शरण दुबे ने gidhaur.com से बात करते हुए कहा कि विनोद कुमार वर्ष 2010 में +2 के गणित शिक्षक के रूप में गिद्धौर में कार्यरत थे। वे मूल रूप से सूर्यगढ़ा के रहने वाले थे। मिलनसार और हंसमुख छवि के विनोद कुमार का निधन विद्यालय परिवार के लिए अपूरणीय क्षति है।

महाराज चंद्रचूड़ विद्यामंदिर के पूर्ववर्ती छात्र सुशान्त साईं सुन्दरम ने शिक्षक विनोद कुमार के निधन पर अपनी श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए कहा कि विनोद सर बेहद शालीन, सौम्य और मृदुभाषी व्यक्ति थे। वे हमेशा सही दिशा दिखलाने के लिए मार्गदर्शन करते और सदैव आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते। पढ़ाई के अलावा सामाजिक क्षेत्र में भी अपने विद्यार्थियों को निखारने में उन्होंने सदैव अग्रणी भूमिका निभाई। उनके निधन से शिक्षा जगत में जो शून्य पैदा हुआ है उसे भरा नहीं जा सकता। सभी छात्र-छात्रा विनोद सर के निधन से मर्माहत हैं। ईश्वर उनकी आत्मा को सद्गति प्रदान करें।

शिक्षक विनोद कुमार के निधन की खबर सुनकर लोग हतप्रभ और शोकाकुल हैं। विद्यामंदिर के अन्य सहकर्मियों एवं छात्र-छात्राओं ने शोक व्यक्त करते हुए अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।
[इनपुट : काजल कुमारी]