Header Ad

header ads

झाझा : सामुदायिक किचन में गरीब, मजदूर, निःसहाय लोगों को मिल रहा है भोजन

झाझा/जमुई (Jhajha/Jamui) | सोनू कुमार [Edited by: Aprajita] : लॉकडाउन के चलते मजदूरी करने वाले मजदूर, गरीब, लाचार और असहाय लोग भूखे नहीं रहे इसको लेकर प्रखंड सूचना प्रौद्योगिकी केंद्र में सामुदायिक किचन की शुरुआत की गई. समुदायिक किचन में गरीब, लाचार, मजदूर लोगों को भोजन कराया जाता है. सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के द्वारा सामुदायिक किचन को संचालित किया जा रहा है. यहां पर समाज के निर्धन तथा निस्सहाय भी भोजन करने आते हैं। प्रत्येक दिन मेनू के हिसाब से भोजन कराया जाता है. इस महामारी कोरोना (Corona) को लेकर जारी लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से कोई भूखा ना रहे इसलिए सरकार के द्वारा सामुदायिक किचन का शुभारंभ किया गया.
मौके पर देखरेख कर रहे शैलेश कुमार माथुरी ने बताया कि लाभार्थी की संख्या में प्रतिदिन बढ़ोत्तरी हो रही है. प्रतिदिन लगभग 150 से 200 लोग यहां आकर भोजन कर रहे हैं. आज अभी तक 70 लोगों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए 20 बेंच की व्यवस्था की गई है। एक बेंच पर मात्र 2 लोग बैठकर भोजन करते हैं. जिस प्रकार से निबंधन हो रहा है, उसी प्रकार से लोगों को भोजन खिलाया जा रहा है. उन्होंने आगे बताया कि सुबह 10:00 बजे से रात 10:00 बजे तक इस मुहिम को चलाया जा रहा है। ज्यादातर लोग जो यहां लाभ लेने के लिए पहुंच रहे हैं, वह यहां का स्थानीय हैं। साथ ही सोहजाना, बलियों, छापा, ककनीयातरी, बस स्टैंड, बाबूबाक, चरघरा से लाभार्थी आते हैं. छोटे बच्चों के लिए बोर्नविटा (Bornvita) और दूध की व्यवस्था भी की गई है. यहां स्थानीय वार्ड पार्षदों के द्वारा भी सहयोग किया जा रहा है। मौके पर वार्ड दो के वार्ड पार्षद ओंकार पासवान, वार्ड 16 के वार्ड पार्षद दिलीप साव के साथ कई लोग इस पुनीत कार्य को सफल बनाने में जुटे हुए हैं.