Header Ad

header ads

जमुई : भाकपा माले ने दिया धरना, बोले - मंगल पांडेय को बर्खास्त कर पप्पू यादव को रिहा करे सरकार

जमुई (Jamui) | बिभूति भूषण : राज्यव्यापी प्रतिरोध दिवस के तहत शनिवार को भाकपा माले शाखा कमेटी माँगोबंदर ने प्रतिरोध दिवस मनाया। प्रतिरोध दिवस की अध्यक्षता माले नेता प्रवीण पांडे ने किया। वहीं आइसा के प्रदेश उपाध्यक्ष बाबू साहब ने कहा कि 15 मई को मोदी सरकार ने पूरे देश को कोरोना महामारी में धकेल दिया है। इसलिए हमने 'देश बेचू, आदमखोर – मोदी-शाह गद्दी छोड़' का नारा दिया है। जो सरकार अपने नागरिकों की जिंदगी को दांव पर लगा दे, उसे एक मिनट भी सत्ता में बने रहने का हक नहीं है। साथ ही बिहार (Bihar) के नकारे और हत्यारे स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (Mangal Pandey) की बर्खास्तगी, एम्बुलेंस घोटालेबाज भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूढ़ी (Rajeev Pratap Rudy) की गिरफ्तारी और पूर्व सांसद पप्पू यादव (Pappu Yadav) की रिहाई की भी मांग उठाई।

उन्होंने कहा कि सरकार के तमाम दावों के विपरीत आज टीका केंद्रों पर कोविड के टीके उपलब्ध नहीं है। हमारी मांग है कि सरकार अविलंब सबके लिए टीका का प्रावधान करे और पंचायत स्तर तक जांच व टीकाकरण केंद्रों का विस्तार करे। साथ ही 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए कोविड टीकाकरण (Covid Vaccination) की ऑनलाइन प्रणाली की बाध्यता खत्म करे। गांवों में जांच और इलाज के लिए मेडिकल टीम भेजकर जागरूकता अभियान चलाया जाए।

जिला अस्पतालों में वेंटिलेटर युक्त आइसीयू की व्यवस्था, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक और रेफरल अस्पतालों में कोविड इलाज का विस्तार, व्यापक पैमाने पर डॉक्टर व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की बहाली, मेडिकल कॉलेजों में भर्ती के लिए कोविड पॉजिटिव (Covid Positive) की शर्त खत्म कर लक्षण के आधार पर भर्ती करने आदि मांगों को सरकार लगातार अनसुनी कर रही है। इस पर बिहार सरकार को गंभीरता से विचार करना चाहिए। वहीं चंदन रावत ने कहा कि आशा कर्मी, सफाई मजदूरों सहित सभी कोरोना वारियर का स्वास्थ्य बीमा का लाभ व कोरोना भत्ता दिया जाना चाहिए तथा जनवितरण प्रणाली के डीलरों से वार्ता कर हड़ताल समाप्त की जानी चाहिए।

भाकपा माले  नेता चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि लाॅकडाउन के कारण सब्जी उत्पादक किसानों की फसलों की बिक्री नहीं हो पा रही है। सरकार उनके फसल की बिक्री की गारंटी करे। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बटाईदार सहित सभी किसानों की गेहूं खरीद की भी गारंटी करे। मौके पर दर्जनों माले कार्यकर्ता मौजूद थे।