Header Ad

header ads

गिद्धौर : मकर संक्रांति को लेकर तिल के व्यंजनों से सजा रहा बाजार

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui) | सुशान्त साईं सुन्दरम :
तिल के व्यंजनों के पर्व मकर संक्रांति को लेकर गिद्धौरवासियों में जबरदस्त उत्साह देखा गया। मकर संक्रांति के साथ ही खरमास समाप्त हो जाएगा और शुभ कार्य किए जा सकेंगे। मकर संक्रांति पर तिल के व्यंजन खाने की परम्परा के चलते गिद्धौर बाजार में तिलकुट, तिलवा, तिलकतरी, तिल के लड्डू आदि की खूब मांग रही।
मिठाई विक्रेताओं के साथ ही फ़ेस्टिवल के सामानों का व्यापार करने वाले भी तिल से बने व्यंजन बेचते नजर आए। गिद्धौर प्रखंड मुख्यालय सहित आसपास के क्षेत्र से खरीददारी करने गिद्धौर बाजार आने वाले लोगों से बाजार में रौनक बनी रही।
तिलकुट विक्रेता बमबम केशरी ने बताया कि कोरोना महामारी के कारण बाजार प्रभावित रहा। अनुमानित रूप से कम मात्रा में तिलकुट बनाया गया था लेकिन फिर भी मांगों की पूर्ति नहीं हो सकी। वहीं गौतम केशरी ने कहा कि आर्डर लेकर तिलकुट बनाया गया। इसमें शुद्धता और स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा गया। दूरदराज के लोगों ने भी गिद्धौर बाजार से खरीददारी की। बता दें कि मकर संक्रांति पर कई तरह के रिवाज और प्रथाओं का भी प्रचलन है। दान-पुण्य के साथ लोग सबकी कुशलता की कामना करते हुए उत्सवी माहौल में मकर संक्रांति मनाते हैं।