Header Ad

header ads

गिद्धौर : मौरा गैरमजरूआ विद्यालय के छत पर ग्रामीण सुखाते हैं अनाज, विभाग बेख़बर

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :- 

सरकार ने राज्य स्तर पर 4 जनवरी से 09 -12वीं कक्षा तक के कक्षा को कोरोना संक्रमण के मापदंड के हिसाब से शिक्षा व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालन का दिशा निर्देश जारी कर दिया हैं। पर गिद्धौर प्रखंड क्षेत्र में शिक्षा का मंदिर आसपास के ग्रामीणों के लिये धान-गेहूं सुखाने का सुलभ स्थल बन कर रह गया है।

प्राथमिक विद्यालय मौरा गैरमजरूआ के छत पर सूख रहा अनाज

मामला मौरा पंचायत के प्राथमिक विद्यालय गैरमजरूआ का है जहां आसपास के ग्रामीणों द्वारा विद्यालय छत को अनाज सुखाने का बेहतरीन स्थल बना लिया है। इस मामले को लेकर जब gidhaur.com ने प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी शमशूल हौदा को अवगत कराया तो उन्होंने जांचोप्रान्त कार्यवाई की बात कही।

बता दें, कोरोना संक्रमण काल में बेपटरी हो चुकी शिक्षा व्यवस्था को पुनः पटरी पर लाने की कवायद जहां विभागीय स्तर पर जारी है , वहीं स्कूल प्रबंधन की उदासीनता से उक्त विद्यालय परिसर को घरेलू उपयोग में लाना, विभागीय दििशा निर्देशो की अनदेखी ने व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा रहा है, जिससे विभागीय महकमा पूरी तरह से अनभिज्ञ है।