Breaking News

जमुई : कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर DM ने की बैठक, डेटा अपलोड के दिए निर्देश

 



【न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

सरकारी व प्रशासनिक स्तर पर कोविड के प्रकोप को परास्त करने के लिए कवायद तेज हो गयी है। इसको लेकर जिला पदाधिकारी जमुई (Jamui DM) की अध्यक्षता में गठित कोविड-19 वैक्सीनेशन की तैयारी एवं क्रियान्वयन हेतु मंगलवार को डीटीएफ की बैठक आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम स्वास्थ्य क्षेत्र में कार्य करने वाले सरकारी एवं निजी क्षेत्र के चिकित्सक पैरामेडिकल कर्मी एवं अन्य सहायक कर्मियों के डेटाबेस की समीक्षा की गई। बताया गया कि इसमें 2572 सरकारी कर्मियों के विरुद्ध 2174 कर्मियों का डाटा इस कार्य के लिए वेबसाइट 'कोविन' पर अपलोड कर दिया गया है। डाटाबेस के अनुसार,   202 प्राइवेट क्लीनिक से 833 एवं 252 आरएमपी का आंकड़ा प्राप्त हुआ है, जिसमें 275 चिकित्सक एवं अन्य कर्मियों का आंकड़ा उपरोक्त वेबसाइट पर अपलोड हो गया।  

बताया जाता है कि, संपूर्ण जिले में 11 क्लीनिक द्वारा आंकड़ा देने से इंकार किया गया है। उन्हें भी एक-दो दिनों में इस विषय  को गंभीरतापूर्वक समझाया जाएगा, यदि इसके बाद भी उनके द्वारा आंकड़ा व ब्यौरा पेश नही किया जाता है तो उनपर विधिसंवत कार्रवाई की जाएगी।

इस संदर्भ में विभाग द्वारा प्रस्तावित सभी डाटा को 24 घंटे में अपलोड करने के निर्देश जिला पदाधिकारी द्वारा दिया गया है।


 जिला स्तरीय पदाधिकारी शीत श्रृंखला रूम का भ्रमण कर अतिरिक्त आई एल आर एवं अन्य उपकरण के लिए प्लेटफार्म ,बिजली ,वायरिंग की व्यवस्था भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। यह सख्त निर्देश दिया गया है कि जिले में किसी स्थान पर वैक्सीन पहुंचने में एक घंटा या उससे अधिक समय लगता है तो उस समय को आधा घंटा तक करने के लिए नया कोल्ड चेन पॉइंट बनाया जाय।