बड़ी खबरें

झाझा : जेपी सेनानी संघ ने बैठक कर रखी 10 सूत्री मांग, पूरी नही होने पर करेंगे आंदोलन

 

Jhajha News (झाझा) :-   झाझा स्थित सरस्वती शिशु मंदिर में दस सूत्री मांगो को लेकर जेपी सेनानी संघ जमुई के बैनर तले एक बैठक आयोजित की गई है, अध्यक्षता संघ के प्रखंड अध्यक्ष मुन्ना साव ने किया। 


बैठक में मुख्य रूप से संघ के जिलाध्यक्ष शिवनंदन सिंह के अलावे कोषाध्यक्ष लक्ष्मण झा, सीयाराम मंडल, भूषण सिंह, शंभूनाथ शर्मा, रंजन सिंह सहित अन्य कई जेपी सेनानी उपस्थित हुए। जिलाध्यक्ष ने कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी, सीएम नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी तीनो 1974 के जेपी आंदोलन के ही अंग है। तीनो सरकार मे रहते हुये जनप्रतिनिधियों के लिये विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध करायी जाती है जैसे वेतन वृद्वि, टीए, डीए मुफ्त यात्रा की सुविधा आदि किंतु जिन जेपी सेनानियों को राजनीति मे कोई अवसर नही मिल पाया उनका क्या कसूर है। आगे जिलाध्यक्ष ने कहा कि हमलोग झाझा को अनुमंडल तथा नपं को नगर परिषद बनाने की मांग को लेकर आने वाले समय मे धरना प्रदर्शन,जेल भरो अभियान की शुरूआत करेगे। वही, जेपी सेनानियो के हित के लिये संघ के सदस्यो की ओर से दस सूत्री मांग रखी गयी।


ये 10 सूत्री हैं मांगें-:-


1).  जेपी सेनानी को स्वतंत्रता सेनानी की तरह सुविधा दिया जाये।


2).  पाॅच हजार रू0 प्रतिमहा चिकित्सा भत्ता दिया जाये,साथ ही चिकित्सा सुविधा को भी सरल किया जाये।


3).  भारत सरकार से संपर्क स्थापित कर सांसद एवं विधायक की तरह सुविधा जेपी सेनानी को भी दिया जाये।


4 ). जिसे जितना पेंशन मिल रहा है उसे दुगुना किया जाये।


5 ). प्राधिकार में जो आवेदन लंति है उसे अविलंब पेंशन देने की घोषणा की जाये।


6 ). झाझा को अनुमंडल एवं नगर परिषद का दर्जा दिया जाये तथा एक स्टेडियम का निर्माण किया जाये।


7).  जमुई जिले मे चल रहे योजना गली नली , जनवितरण प्रणाली, जाॅबकार्ड , राशनकार्ड एवं प्रधानमंत्री आवास के आवंटन में घोटाला हुआ है, उसे अतिशीघ्र जाॅच कराया जाये।


8 ). चकाई,सिकंदरा को नगर पंचायत का दर्जा दिया जाये।


9 ). मांगोबंदर, गरही और नवीनगर को प्रखंड का दर्जा दिया जाये।


10).  पूर्व मे कई मांगो में दिये गए आश्वासन को जल्द से जल्द पूरा किया जाना चाहिये।

No comments