कुमार कालिका सिंह पर लिखी जा रही किताब 'स्वतंत्रता संग्राम के हीरा' के लिए शैलेश भारद्वाज ने दी शुभकामनाएं - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Saturday, 12 September 2020

कुमार कालिका सिंह पर लिखी जा रही किताब 'स्वतंत्रता संग्राम के हीरा' के लिए शैलेश भारद्वाज ने दी शुभकामनाएं

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui) : बिहार (Bihar) में स्वतंत्रता संग्राम का सूत्रपात करने वाले वीर सेनानी कुमार कालिका प्रसाद सिंह (Kumar Kalika Prasad Singh) 'हीरा जी' की 67वीं पुण्यतिथि (10 सितंबर 2020) पर उनपर लिखी जा रही युवा लेखक सुशान्त साईं सुन्दरम (Sushant Sai Sundaram) की किताब 'स्वतंत्रता संग्राम के हीरा : कुमार कालिका प्रसाद सिंह' (Svatantrata Sangram Ke Heera : Kumar Kalika Prasad Singh) के कवर पेज का लॉन्चिंग 'हीरा जी' के प्रपौत्र महुलीगढ़ (Mahuligarh)  के कुमार पुष्पराज (Kumar Puspraj) के हाथों किया गया. जिसके बाद किताब को लेकर जमुई (Jamui) जिला के युवाओं में जबरदस्त उत्साह देखा जा रहा है. इसी को लेकर शुक्रवार को एबीवीपी (ABVP) के विभाग संयोजक एवं मुंगेर विश्वविद्यालय (Munger University) के सीनेट सदस्य शैलेश भारद्वाज ने गिद्धौर (Giddhaur) में सुशान्त से मुलाकात कर किताब लेखन के लिए शुभकामनाएं दीं.

इस दौरान शैलेश ने कहा कि कुमार कालिका प्रसाद सिंह जमुई (Jamui) जिला के बड़े स्वतंत्रता सेनानी हुए. दुख की बात है कि लोग उन्हें भूलते जा रहे हैं. लेकिन सुशान्त की आने वाली किताब में उनके बारे में पढ़कर लोगों को बहुत कुछ जानने के लिए मिलेगा. इस किताब के लिए मेरी ओर से सुशान्त को ढेरों शुभकामनाएं हैं. हम सब बेसब्री से किताब के प्रकाशित होने का इंतजार कर रहे हैं.

वहीं इस दौरान किताब 'स्वतंत्रता संग्राम के हीरा : कुमार कालिका प्रसाद सिंह' के लेखक सुशान्त साईं सुन्दरम ने कहा कि यह किताब केवल मेरी नहीं है बल्कि जमुई जिला के सभी युवाओं की है. कुमार कालिका सिंह (Kumar Kalika Singh) के बारे में सबको जानना चाहिए. किताब जल्द ही प्रकाशित किया जाएगा.

Post Top Ad